Medi Assist Healthcare Listing: 11 प्रतिशत प्रीमियम के साथ लिस्ट हुई कंपनी, जानें निवेशकों को कितना हुआ फायदा

8

Medi Assist Healthcare Listing: मेडी असिस्ट हेल्थकेयर सर्विसेज के शेयर निर्गम मूल्य 418 रुपये से 11 प्रतिशत से अधिक उछाल के साथ मंगलवार को बाजार में सूचीबद्ध हुए. बीएसई पर शेयर निर्गम मूल्य से 11.24 प्रतिशत चढ़कर 465 रुपये पर सूचीबद्ध हुए. बाद में 13.35 प्रतिशत उछलकर 473.80 रुपये पर पहुंच गए. एनएसई पर कंपनी के शेयर ने 10.05 प्रतिशत की बढ़त के साथ 460 रुपये पर कारोबार शुरू किया. बाद में 12.37 प्रतिशत चढ़कर 470.65 रुपये प्रति शेयर पर पहुंच गए. मेडी असिस्ट हेल्थकेयर सर्विसेज के आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) को 17 जनवरी को बोली के अंतिम दिन 16.25 गुना अभिदान मिला था. कंपनी का 1,171.57 करोड़ रुपये का आईपीओ पूरी तरह 2,80,28,168 तक के इक्विटी शेयर की बिक्री पेशकश (ओएफएस) पर आधारित था. इसके लिए मूल्य दायरा 397-418 रुपये प्रति शेयर रखा गया था. मेडी असिस्ट हेल्थकेयर सर्विसेज ने इससे पहले एंकर निवेशकों से 351.5 करोड़ रुपये जुटाए थे. आईपीओ के तहत शेयर बिक्री करने वाले प्रवर्तकों में कंपनी के चेयरमैन विक्रम जीत सिंह चटवाल, मेडिमैटर हेल्थ मैनेजमेंट, बेसेमर हेल्थ कैपिटल और इन्वेस्टकॉर्प प्राइवेट इक्विटी फंड शामिल थे. मेडी असिस्ट के अंतर्गत 31 राज्यों के 1,069 शहरों में करीब 18,000 अस्पताल आते हैं. इसकी 35 बीमाकर्ताओं के साथ साझेदारी है.

निवेशकों को कितना हुआ फायदा

बीमा सेक्टर में काम करने वाली मेडी असिस्ट हेल्थकेयर सर्विसेज आईपीओ में इश्यू प्राइस 418 रुपये रखा गया था. आज कंपनी के शेयर 11.24 प्रतिशत यानी 47 रुपये की करीब बढ़त के साथ लिस्ट हुआ है. आईपीओ लॉट का आकार 35 इक्विटी शेयर का था. इसका अर्थ है कि 418 रुपये के भाव से निवेशक को कम से कम 35 शेयर पर दाव लगाना था. यानी 14,630 रुपये निवेश करके निवेशकों को 16,275 रुपये का शेयर मिला है. इसका अर्थ है कि इस निवेश पर उनकी 1645 रुपये की कम से कम कमाई हुई है.

क्या काम करती है मेडी असिस्ट हेल्थकेयर सर्विसेज लिमिटेड

मेडी असिस्ट हेल्थकेयर सर्विसेज लिमिटेड अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनियों, मेडवांटेज टीपीए, रक्षा टीपीए और मेडी असिस्ट टीपीए के माध्यम से बीमा कंपनियों को थर्ड पार्टी सेवाएं प्रदान करता है. कंपनी अन्य बीमा कंपनियों की ओर से स्वास्थ्य बीमा दावों को संभालता है और नेटवर्क प्रबंधन, नीति प्रशासन और ग्राहक सेवा जैसी सेवाएं प्रदान करता है. मुख्य रुप से इसे थर्ड पार्टी कंपनी के रुप में देखा जा सकता है. अपनी सहायक कंपनियों, IHMS, मेफेयर इंडिया, मेफेयर यूके, मेफेयर ग्रुप होल्डिंग, मेफेयर फिलीपींस और मेफेयर सिंगापुर की मदद से, कंपनी अतिरिक्त स्वास्थ्य देखभाल और सहायक सेवाएं भी प्रदान करती है, जैसे अस्पताल में भर्ती, कॉल सेंटर, ग्राहक संबंध, अनुबंध प्रबंधन, बिलिंग , और दावा प्रसंस्करण सेवाएं आदि. 30 सितंबर, 2023 तक, कंपनी ने एक अखिल भारतीय स्वास्थ्य सेवा प्रदाता नेटवर्क स्थापित किया है जिसमें 1,069 शहरों और कस्बों, 31 राज्यों (केंद्र शासित प्रदेशों सहित) और दुनिया भर के 141 देशों में फैले 18,754 अस्पताल शामिल हैं.

(भाषा इनपुट के साथ)

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.