हिमाचल में नहीं थम रहा मनोहर हत्याकांड पर बवाल! बीजेपी निकाल रही रैली, 10 आरोपी गिरफ्तार

11

Manohar Murder Case: हिमाचल प्रदेश में मनोहर लाल हत्याकांड पर बवाल जारी है. बीजेपी सरकार पर निशाना साध रही है तो कांग्रेस नेतृत्व बीजेपी पर हत्याकांड को लेकर राजनीति करने का आरोप लगा रही है. मामला और उलझ गया जब बीजेपी नेता और हिमाचल प्रदेश के पूर्व सीएम जयराम ठाकुर और भारतीय जनता पार्टी की राज्य इकाई के अध्यक्ष राजीव बिंदल को मृतक के परिजनों से मिलने से रोक दिया गया. बीजेपी ने इसके खिलाफ पूरे राज्य में रैलियां निकालने कर विरोध प्रदर्शन की घोषणा की है. गौरतलब है कि चंबा में पीड़ित परिजनों से मुलाकात करने आ रहे बीजेपी नेताओं को पुलिस ने सलूनी उपसंभाग में चामेरा बांध पर रोक दिया.

कांग्रेस ने लगाया बीजेपी पर जांच में बाधा डालने का आरोप
इधर मनोहर लाला की हत्या के बाद बीजेपी कांग्रेस में आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग की है. प्रदेश के राज्यपाल शिवप्रताप शुक्ला ने भी कहा है कि इस जघन्य अपराध में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित की जानी चाहिए. वहीं, कांग्रेस सरकार ने बीजेपी पर क्षेत्र में लागू निषेधाज्ञा की अवहेलना करके जांच में बाधा डालने का आरोप लगाया. साथ ही कही कि पुलिस मामले की गहन जांच कर रही है. बता दें, प्रेम-प्रसंग को लेकर मनोहर की हत्या कर दी गई थी. कई टुकड़ों में उसकी शव मिला था. मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए इलाके में निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है.

NIA से जांच कराने की मांग
गौरतलब है कि लापता होने के दो दिन एक नाले में मनोहर लाल का शव मिला था. उसका शव कई टुकड़ों में कटा हुआ था. पुलिस ने हत्या के शक में 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. वहीं, बीजेपी नेता मनोहर के परिजन से मिलना चाह रहे थे लेकिन उन्हें अनुमति नहीं मिली, जिसके बाद बीजेपी नेताओं ने डलहौजी में जनसभा को संबोधित किया. साथ ही ऐलान किया कि पार्टी इस मुद्दे पर आज यानी शनिवार को सभी 12 जिला मुख्यालयों में रैलियां निकालेगी. बीजेपी ने इस दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू पर निशाना साधा. पूर्व सीएम जयराम ठाकुर ने मामले की राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) से जांच कराने की मांग दोहराई.

VHP ने की हत्यारों को मृत्युदंड देने की मांग
इधर हत्याकांड को लेकर विश्व हिंदू परिषद (VHP) की हिमाचल प्रदेश इकाई के अध्यक्ष लेखराज राणा ने दोषियों को मृत्युदंड देने की मांग की. राणा ने अपने बयान में यह भी कहा कि हत्या के विरोध में 19 और 20 जून को प्रदर्शन किया जाएगा. विहिप नेता ने कहा कि मामले की तत्काल जांच के लिए त्वरित अदालत का गठन किया जाना चाहिए. राणा ने बीजेपी की एनआईए जांच की मांग का भी समर्थन किया.

भाषा इनपुट से साभार

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.