मणिपुर हिंसा: भाजपा कार्यालय के पास जमा हुई भीड़, पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे, मची अफरा तफरी

64

Manipur Volence : मणिपुर में हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है. गुरुवार को कंगपोकपी जिले के हरओठेल गांव में कुछ अज्ञात ‘‘दंगाइयों’’ ने बिना किसी उकसावे के गोलीबारी कर दी जिसमें एक शख्स की मौत हो गयी जबकि कुछ अन्य घायल हो गये. इस घटना के कारण क्षेत्र में तनाव व्याप्त हो गया. इस बीच मणिपुर के इंफाल में भाजपा के क्षेत्रीय कार्यालय के पास देर शाम भीड़ जमा हो गयी. पुलिस ने उन्हें रोकने और तितर-बितर करने के लिए कई राउंड आंसू गैस के गोले दागे हैं. इस घटना का वीडियो सामने आया है.

इस बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने हिंसा प्रभावित लोगों से मिलने के लिए इंफाल में एक राहत शिविर का दौरा किया. राहुल गांधी के मणिपुर दौरे पर असम CM हिमंता बिस्वा सरमा का बयान सामने आया है. उन्होंने कहा है कि मणिपुर की मौजूदा स्थिति को नियंत्रित करने का काम केंद्र व राज्य सरकार को करना है. ऐसे में किसी भी नेता के दौरा करने से कोई नतीजा नहीं निकलेगा. इस स्थिति में हमें राजनीतिक फायदा उठाने की कोशिश नहीं करनी चाहिए.

राहुल गांधी का ट्वीट

वहीं कांग्रेस महासचिव के.सी. वेणुगोपाल ने कहा कि मुझे समझ नहीं आ रहा कि सरकार ने राहुल गांधी को क्यों रोका? कांग्रेस नेता राहुल गांधी के दौरे से शांति प्रयासों को ही मजबूती मिलेगी. हर जगह बहुत बुरे हालात हैं. राहुल गांधी ने लोगों की बातें सुनी हैं, उन्होंने उनसे कहा कि वे चिंता न करें, हम सब उनके साथ हैं शांति का समय आएगा. इस बीच राहुल गांधी ने ट्वीट किया है.

अपने ट्विटर वॉल पर राहुल गांधी ने वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा कि मैं मणिपुर के अपने सभी भाइयों-बहनों को सुनने पहुंचा. सभी समुदाय के लोग मेरा स्वागत करने को उत्सुक नजर आये. वे प्रेम से मुझसे मिलना चाह रहे थे. यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि सरकार मुझे रोक रही है. मणिपुर को ठीक करने की जरूरत है. शांति हमारी एकमात्र प्राथमिकता होनी चाहिए.

29061 pti06 29 2023 000230b
राहुल गांधी

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.