’50 दिन से जल रहा है मणिपुर लेकिन…’, कांग्रेस ने सर्वदलीय बैठक से पहले भाजपा पर साधा निशाना

88

मणिपुर में जारी हिंसा को लेकर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भाजपा पर हमला किया है. उन्होंने कहा है कि भाजपा के लोग तो बहुत दावे करते हैं कि हमारे राज्य में कहीं सांप्रदायिकता नहीं होती. यहां 50 दिन से मणिपुर जल रहा है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फुर्सत ही नहीं है कि वे समस्या के हल के लिए बातचीत करें. आपको बता दें कि मणिपुर में भीड़ ने राज्य सरकार में मंत्री एल सुसींद्रो के इंफाल पूर्वी जिले के चिनगारेल स्थित निजी गोदाम में आग लगा दी जिसकी जानकारी पुलिस ने दी है.

उल्लेखनीय है कि हिंसा प्रभावित राज्य के हालात पर चर्चा के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा दिल्ली में शनिवार को सर्वदलीय बैठक बुलायी गयी है जिसमें मणिपुर के पूर्व मुख्यमंत्री ओकराम इबोबी सिंह कांग्रेस का प्रतिनिधित्व करेंगे. कांग्रेस प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हिंसा प्रभावित राज्य मणिपुर में शांति स्थापित करने में मदद के लिए प्रदेश में ही सर्वदलीय बैठक बुलाने की मांग कर रही है. कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा है कि मणिपुर 52 दिन से जल रहा है और आखिरकार गृह मंत्री ने आज मणिपुर पर सर्वदलीय बैठक बुलाना उचित समझा है.

दिल्ली में सर्वदलीय बैठक

इधर मणिपुर की राजधानी इंफाल में बाजार खुले और लोग जरूरी सामान खरीदने के लिए बाहर निकले. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज दिल्ली में मणिपुर के हालात पर चर्चा के लिए सर्वदलीय बैठक करेंगे. इस बैठक में शामिल होने के लिए केंद्रीय मंत्री व नेता पहुंचे. मेघालय के मुख्यमंत्री कॉनराड के. संगमा और CPI(M) सांसद जॉन ब्रिटास मणिपुर की मौजूदा स्थिति को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक के लिए पहुंचे.

विपक्ष की बैठक पर प्रतिक्रिया

अनुराग ठाकुर के ड्रामेबाज़ वाले बयान पर छत्तीसगढ़ सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि सभी दलों का अपना अस्तित्व है और सभी अलग-अलग समय पर अलग निर्णय लेते हैं. ये अनुराग ठाकुर बताएं कि इन्हीं दलों से जब भाजपा का भी गठबंधन हुआ और सरकार बनाई तब वे क्या थे? सबसे बड़े ड्रामेबाज़ BJP के लोग हैं. गौर हो कि विपक्ष की बैठक पर केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा था कि रंगमंच सज चुका है, नाटकमंडली एकत्रित हो चुकी है. कैसे उस मंच पर एकत्रित हो गए जहां ममता बनर्जी कांग्रेस को कहती है बंगाल छोड़ दो, अखिलेश कहते हैं यूपी छोड़ दो, लालू-नीतीश कहते हैं बिहार छोड़ दो. तो कांग्रेस क्या गठबंधन में कुर्सियां लगाने के लिए रह जाएगी?

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.