Lok Sabha Election 2024: बंगाल में क्या होगा गठबंधन का

4

24021 pti02 23 2024 000084a

Lok Sabha Election 2024: दिल्ली-यूपी के बाद अब नजर बंगाल पर, कांग्रेस ने कहा- करते हैं ममता बनर्जी का सम्मानलोकसभा चुनाव की घोषणा के पहले विपक्षी गठबंधन ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’(इंडिया, I-N-D-I-A) सीट बंटवारे के लिए लगातार जोड़तोड़ में लगा हुआ है. कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने सीट शेयरिंग को लेकर जहां सहमति जता दी है और प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी दे दी है. वहीं अब सबकी नजर पश्चिम बंगाल पर टिकी हुई है. शनिवार को कांग्रेस के दिग्गज नेता और पार्टी महासचिव जयराम रमेश ने मामले पर प्रतिक्रिया दी है. तृणमूल कांग्रेस यानी टीएमसी के सांसद डेरेक ओ’ब्रायन की एक टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में गठबंधन के लिए टीएमसी के साथ कांग्रेस की चर्चा जारी है. डेरेक ओ’ब्रायन की टिप्पणी को ज्यादा तवज्जो नहीं देते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि दोनों दलों के बीच गरमागरम बहस होती रहती है, लेकिन हम ममता बनर्जी का सम्मान करते हैं. उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में भाग ले रहे जयराम रमेश ने उक्त टिप्पणी की है.

Lok Sabha Election 2024: विपक्षी गठबंधन का उद्देश्य बीजेपी को हराना

कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि सीटों को लेकर चर्चा चल रही है. टीएमसी के लिए हमारे दरवाजे हमेशा खुले हैं. ममता बनर्जी और टीएमसी की ओर से कहा गया है कि वे विपक्षी गठबंधन को मजबूत करना चाहते हैं. हमारा सबसे बड़ा मकसद बीजेपी को लोकसभा चुनाव में हराना है. आपको बता दें कि इससे पहले खबर आई थी कि ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी पश्चिम बंगाल की सभी 42 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी. कुछ पार्टी नेताओं ने इस बाबत बयान भी दिया था. कुछ दिन पहले, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की ओर से भी यह बयान आया था कि टीएमसी बंगाल की सभी 42 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी.

Lok Sabha Election 2024: कांग्रेस और ‘आप’ में बन गई बात, जानें किस राज्य में किसके कितने उम्मीदवार

Lok Sabha Election 2024: उत्तर प्रदेश में हो गया है कांग्रेस और सपा का गठबंधन

आपको बता दें कि कांग्रेस और समाजवादी पार्टी ने आगामी चुनाव को लेकर सीट शेयरिंग पर सहमति जता दी है. लोकसभा सीटों के लिहाज से सबसे बड़े में सपा और कांग्रेस के बीच आखिरकार पिछले दिनों गठबंधन हो गया. 80 सीटों में से कांग्रेस 17 पर चुनाव लड़ने के लिए सहमत हुई है जबकि सपा ने अपने पास 62 सीटें रखी है. वहीं एक सीट पर आजाद समाज पार्टी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद को दी जा सकती है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.