लॉकडाउन 16 मई तक होना चाहिए: चेयरमैन डॉक्टर एसके सरीन

0 202

शुक्रवार को 138 नए मामले सामने आए और मरीजों की संख्या 2500 को पार कर गई है।

ऐसे में 3 मई के बाद भी लॉकडाउन बढ़ाने की चर्चा जोरों पर हैं।

दिल्ली न्यूज़ 24 रिपोर्टर(अमित लाल)। देश की राजधानी दिल्ली में लगातार कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। शुक्रवार को ही कोरोना के 138 नए मामले सामने आए और मरीजों की कुल संख्या 2500 को पार कर गई है। ऐसे में दिल्ली में 3 मई के बाद भी लॉकडाउन बढ़ाने की चर्चा जोरों पर हैं। इस पर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि लॉकडाउन के मुद्दे पर विचार-विमर्श जारी है। लॉकडाउन को लेकर जो भी फैसला होगा, वह 30 अप्रैल के बाद ही होगा।

बताया जा रहा है कि दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने राजधानी में कोरोना संक्रमित मामलों के मद्देनजर लॉकडाउन 3 मई से भी आगे बढ़ाने के संकेत दिए हैं। कहा जा रहा है कि हालात के मद्देनजर दिल्ली में 3 मई के बाद भी लॉकडाउन बढ़ाने की जरूरत है।

दिल्ली सरकार के कोरोना पैनल के चेयरमैन डॉक्टर एसके सरीन का कहना है कि कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के मद्देनजर लॉकडाउन 16 मई तक होना चाहिए। इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा कि लॉकडाइन की स्थिति में ही कोरोना के मामले घटेंगे।

गौरतलब है कि दिल्ली में 3 मार्च को पहला मामला सामने आया था। 2 महीने भी नहीं हुए और दिल्ली में कोरोना के मामलों की संख्या 2500 के पार पहुंच गई है। इसी के साथ दिल्ली में 92 हॉटस्पॉट घोषित हो चुके हैं। इस बीच शुक्रवार को राहत की खबर आई, जिसमें वसुंधरा एन्क्लेव स्थित मनसारा अपार्टमेंट को कंटेनमेंट जोन से बाहर किया गया है, क्योंकि यहां पर काफी दिनों तक कोई कोरोना का केस नहीं आया।

कंटेनमेंट जोन में 233 लोग पाए गए संक्रमित

दिल्ली में अभी तक 92 इलाकों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। इन लोगों से अब तक 5360 सैंपल लिए गए हैं। जिसमें से 233 सैंपल पॉजेटिव पाए गए हैं। 3273 लोगों की जांच रिपोर्ट आना बाकी है।