Lockdown in Delhi: दिल्‍ली-NCR के कई इलाकों में लॉकडाउन, बॉर्डर सील, इन सेवाओं पर रोक

0 95

नयी दिल्ली। दिल्ली न्यूज़ 24 रिपोर्टर : दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और अनिल बैजल कोरोना के खिलाफ जंग में दिल्‍ली के सभी 11 जिलों को लॉकडाउन कर दिया है। कोरोना से फैलने वाले संक्रमण को रोकने के लिए देश की राजधानी दिल्ली के सभी 11 जिलों को सरकार के आदेश के बाद तत्‍काल लॉकडाउन कर दिया गया है। इसमें सेंट्रल दिल्ली, ईस्ट दिल्ली, नॉर्थ दिल्ली, नॉर्थ वेस्ट दिल्ली, नॉर्थ ईस्ट दिल्ली, साउथ दिल्ली और वेस्ट दिल्ली समेत अन्‍य जिलों को लॉक डाउन किया गया। केजरीवाल ने बताया कि सोमवार की सुबह छह बजे से यह लॉकडाउन का आदेश मान्य होगा। लॉकडाउन 31 मार्च की रात 12 बजे तक रहेगा। इस आदेश के बाद दिल्‍ली के सारे बॉर्डर सील होंगे।

इन चीजों पर रहेगी रोक

  • डीटीसी की बसें सिर्फ 25% चलेंगी
  • सभी बाजारें और दुकानें बंद
  • बॉर्डर सील किये जाएंगे
  • केवल ज़रूरी समान आएगा
  • सभी फ्लाइट बंद
  • रेल बंद
  • मेट्रो सेवा बंद
  • कंस्ट्रक्शन बंद
  • सारे मंदिर बंद
  • सभी मस्जिद बंद
  • पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद
  • नहीं मानने पर होगी कानूनी कार्रवाई

हालांकि जरूरी चीजों जुड़ी चीजों की दुकान खुली रहेंगी। दवा दुकान, दूध दुकान की सेवा बाधित नहीं होंगी। दिल्‍ली के सीएम केजरीवाल ने कहा कि लॉकडाउन के आदेश का उल्‍लंघन करने पर कानूनी कार्रवाई की जा सकती है।

इधर, दिल्‍ली से सटे यूपी के गौतमबुद्ध नगर को यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने लॉकडाउन कर दिया है। वहीं हरियाणा का क्षेत्र जो एनसीआर में आता है उसमें कुछ जिलों में भी लॉकडाउन कर दिया गया है। इसमें गुरुग्राम, फरीदाबाद, रोहतक, सोनीपत, झज्जर, पंचकूला व पानीपत हैं। बता दें कि गुरुग्राम और फरीदाबाद से एक बड़ी आबादी दिल्‍ली में हर दिन नौकरी और बिजनेस से जुड़े काम के लिए यात्रा करती है। ऐसे में लॉकडाउन से इन शहरों की रफ्तार पर पूरी तरह से रोक लग जाएगी।

इधर, कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए जिला प्रशासन ने गुरुग्राम और फरीदाबाद के सभी औद्योगिक इकाइयों, व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को 31 मार्च तक बंद रखने का आदेश दिया है। इस बीच केवल अत्यावश्यक सेवाओं से संबंधित प्रतिष्ठान और औद्योगिक इकाइयां ही चलेंगी।

इन दोनों जिलों में हजारों औद्योगिक इकाइयां व अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान हैं, जिनमें लाखों लोग काम करते हैं। गुरुग्राम में मारुति सुजुकी, हीरो मोटो कॉर्प, होंडा स्कूटर्स एंड मोटरसाइकिल, सुजुकी मोटरसाइकिल सहित सैकड़ों औद्योगिक इकाइयों में हजारों कर्मचारी हैं। गारमेंट सेक्टर की भी कई इकाइयां हैं। इन व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में प्रतिदिन काफी संख्या में लोग पहुंचते हैं। इसे देखते हुए ही इन प्रतिष्ठानों को बंद करने का आदेश जारी किया गया है।