उपराज्यपाल बोले- शर्म से झुक गया सिर

केजरीवाल ने जताई कड़ी सजा की उम्मीद

36

युवती कार में फंसकर घिसटती रही। युवती की हालत यह हो गई कि उसकी सारी हड्डियां चकनाचूर हो गई। उसके तन पर एक भी कपड़ा नहीं बचा। युवती के दोनों पैर, सिर व शरीर के अन्य हिस्से बुरी तरह कुचल गए।

वरिष्ठ संवाददाता/महेश ढौंढियाल 

नयी दिल्ली। देश की राजधानी नए साल के जश्न में डूबी थी। उसी दौरान दिल्ली के सड़कों पर एक बेटी के साथ बेरहमी की जा रही थी। शराब के नशे में चूर पांच युवकों ने अपनी कार से स्कूटी सवार युवती को टक्कर मारी, इसके बाद युवती को करीब 10 किलोमीटर तक घसीटते हुए ले गए। युवती कार में फंसकर घिसटती रही। युवती की हालत यह हो गई कि उसकी सारी हड्डियां चकनाचूर हो गई। उसके तन पर एक भी कपड़ा नहीं बचा। युवती के दोनों पैर, सिर व शरीर के अन्य हिस्से बुरी तरह कुचल गए।

सुल्तानपुरी थाने का पब्लिक ने किया घेराव इंसाफ की लिए लगा रहे गुहार

बाहरी दिल्ली इलाके में रोंगटे खड़े कर देने वाली सनसनीखेज घटना से सब सहम गए। दिल्ली को दहला देने वाली यह घटना उस समय सामने आई है जब नए साल के जश्न को लेकर पूरी दिल्ली पुलिस यहां तक दिल्ली पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा सड़कों पर थे। यह देश की सबसे बड़ी दर्दनाक सड़क दुर्घटना बताई जा रही है।

कंझावला इलाके में लड़की को घसीटने वाली गाड़ी सीसीटीवी में कैद

उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने बीती देर रात इस मामले में एक के बाद एक दो ट्वीट किए। उन्होंने कहा, एलजी ने लिखा कंझावला-सुल्तानपुरी में हुई अमानवीय घटना से मेरा सिर शर्म से झुक गया है और दोषियों के राक्षसी असंवेदनहीनता से स्तब्ध हूं। मैं इस पूरे हादसे की मॉनिटरिंग दिल्ली पुलिस कमिश्नर के साथ कर रहा हूं और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। घटना के सभी पहलुओं की जांच की जा रही है।

एलजी ने देर रात किए अपने ट्वीट में ये भी कहा कि पीड़ित परिवार की हर तरह की मदद की जा रही है। उन्होंने सभी से अपील की है कि इस मामले अवसरवादी रवैया न अपनाते हुए साथ मिलकर काम करें और एक जिम्मेदार व संवेदनशील समाज बनाने की दिशा में काम करें।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार सुबह ट्वीट कर मामले को शर्मनाक बताया। उन्होंने कहा, कंझावला में हमारी बहन के साथ जो हुआ, वो बेहद शर्मनाक है। मैं उम्मीद करता हूं कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी।

देश की राजधानी क्राइम सिटी बन चुकी है। दिल्ली में हमारी बहन-बेटियां सुरक्षित नहीं हैं और एलजी साहब कानून व्यवस्था की जिम्मेदारी छोड़कर राजनीति कर रहे हैं। आज दोपहर 2.00 बजे दिल्ली वाले लचर कानून व्यवस्था के खिलाफ एलजी हाउस का घेराव करेंगे।

कार सवार पांचों आरोपी युवकों ने कार से युवती को कई किलोमीटर से ज्यादा घसीटा था। इसमें से करीबन 1 से 2 किलोमीटर एरिया बाहरी जिले में है और बाकी एरिया रोहिणी जिले में है। आरोपी युवक कार से युवती को घसीटते हुए सुल्तानपुरी से जोंटी गांव, कंझावला तक ले गए। अगले बंपर और पहियों के बीच युवती फंस गई थी। कार में फंसा हुआ शव जब सड़क पर गिरा तो युवक फरार हो गए। रविवार तड़के 4:11 बजे राहगीरों ने सड़क पर युवती का शव देखकर पुलिस को खबर दी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.