Kailash Vijayvargiya: जानें कौन हैं कैलाश विजयवर्गीय, जो मोहन यादव सरकार में बने कैबिनेट मंत्री

4

मध्य प्रदेश में डॉ मोहन यादव सरकार की कैबिनेट का विस्तार कर दिया गया है. कैलाश विजयवर्गीय समेत 18 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली. जबकि 6 को स्वतंत्र प्रभार और 4 को राज्य मंत्री बनाया गया है. मध्यप्रदेश के राज्यपाल मंगू भाई पटेल ने राजभवन में एक समारोह में मुख्यमंत्री मोहन यादव के मंत्रिमंडल के 28 सदस्यों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई. कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद उन्होंने पहली प्रतिक्रिया में कहा, इस टीम में टेस्ट मैच के साथ-साथ टी20 खिलाड़ी भी हैं और इसलिए यह बहुत संतुलित टीम है.

विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के संजय शुक्ला को भारी अंतर से हराया

कैलाश विजयवर्गीय भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता है. जो इस समय पार्टी के महासचिव हैं और अब मोहन यादव सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाए गए हैं. विधानसभा चुनाव 2023 में इंदौर-1 से विजयवर्गीय ने कांग्रेस के संजय शुक्ला को 57939 वोट के अंतर से हराया और लगातार 7वीं बार विधानसभा पहुंचे. उन्हें कुल 158123 वोट मिले.

कौन हैं कैलाश विजयवर्गीय

कैलाश विजयवर्गीय ने अपनी राजनीति बीजेपी इंदौर से की. वह इंदौर के मेयर भी रह चुके हैं. उनका रिकॉर्ड रहा है कि वह अब तक एक बार भी चुनाव नहीं हारे. राज्य सरकार में कैलाश विजयवर्गीय 12 साल से अधिक समय तक कैबिनेट मंत्री रहे हैं. विजयवर्गीय ने विज्ञान से स्नातक की उपाधी ली. उसके बाद उन्होंने एलएलबी भी किया. विजयवर्गीय ने 1975 में एबीवीपी से राजनीति में प्रवेश किया. उन्होंने 8 दिसंबर 2008 को कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली थी. जिसमें उन्हें लोक निर्माण, संसदीय कार्य, शहरी प्रशासन और विकास विभाग दिए गए. 1 जुलाई 2004 को उन्हें धार्मिक न्यास, बंदोबस्ती और पुनर्वास विभाग दिया गया. विजयवर्गीय 27 अगस्त 2004 को लोक निर्माण मंत्री के रूप में फिर से बाबूलाल गौर के मंत्रिपरिषद में शामिल हो गए.

तीन मुख्यमंत्रियों के नेतृत्व में कर चुके हैं काम

कैलाश विजयवर्गीय तीन मुख्यमंत्रियों के साथ काम कर चुके हैं. सबसे पहले उन्हें उमा भारती सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाया गया. फिर वह बाबूलाल गौर और शिवराज सिंह चौहान सरकार में भी कैबिनेट मंत्री रहे.

चुनावी प्रभावी के रूप में कैलाश विजयवर्गीय ने किया बेहतरीन काम

कैलाश विजयवर्गीय ने चुनाव प्रभावी के रूप में शानदार काम किया. उन्हें बीजेपी ने सबसे पहले हरियाणा विधानसभा चुनाव से पहले प्रभारी बनाया. वहां उन्होंने बीजेपी को 4 से 47 सीटों पर पहुंचाया. बेहतरीन सफलता को देखते हुए उन्हें पश्चिम बंगाल का प्रभारी बनाया गया. बंगाल में भी उन्होंने बीजेपी के प्रदर्शन को सुधारा. उनके नेतृत्व में बंगाल में बीजेपी नंबर दो पर पहुंच गई.

18 कैबिनेट मंत्री

  • विजय शाह

  • कैलाश विजयवर्गीय

  • प्रह्लाद पटेल

  • करण सिंह वर्मा

  • राकेश सिंह

  • उदय प्रताप सिंह

  • संपतिया उइके

  • तुलसीराम सिलावट

  • ऐदल सिंह कंसाना

  • गोविंद सिंह राजपूत

  • विश्वास सारंग

  • निर्मला भूरिया

  • नारायण सिंह कुशवाहा

  • नागर सिंह चौहान

  • प्रद्युम्न सिंह तोमर

  • राकेश शुक्ला

  • चैतन्य कश्यप

  • इंदर सिंह परमार

राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार

  • कृष्णा गौर

  • धर्मेंद्र भाव लोधी

  • दिलीप जयसवाल

  • गौतम टेटवाल

  • लाखन पटेल

  • नारायण सिंह पवार

राज्य मंत्री

  • नरेंद्र शिवाजी पटेल

  • प्रतिमा बागरी

  • दिलीप अहिरवार

  • राधा सिंह

मोहन यादव मंत्रिमंडल में पांच महिलाओं को भी किया गया शामिल

मोहन यादव के मंत्रिमंडल में दो कैबिनेट रैंक संपतिया उइके और निर्मला भूरिया तीन राज्य मंत्री कृष्णा गौर, प्रतिमा बागरी और राधा सिंह समेत कुल पांच महिलाओं को शामिल किया गया है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.