मध्यप्रदेश चुनाव के काफी पहले बीजेपी के उम्मीदवारों की लिस्ट जारी करने के पीछे की वजह जानें

18

मध्यप्रदेश में इस साल के आखिर में होने वाले विधानसभा चुनाव के पहले बीजेपी ने उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की है. इस लिस्ट के बाद नाराजगी का दौर देखने को मिल सकता है. मामले को लेकर मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि वर्तमान स्थिति के अनुसार निर्णय लिया जाता है…पार्टी कार्यकर्ता की कोई श्रेणी नहीं होती. हर कोई मेहनती और समर्पित है और वे आगामी चुनाव में जीतेंगे.

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि जब जैसी स्थिति होती है. वैसा निर्णय लिया जाता है. वर्तमान में हमारे जो योग्य और अनुभवी कार्यकर्ता थे, उन्हें बीजेपी ने टिकट दिया है. सरकार हो या पार्टी…हमारा नेतृत्व दूर दृष्टि से काम करता है. उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं की कोई कैटेगरी नहीं है. सभी समर्पित कार्यकर्ता हैं. ये सब जीतकर आएंगे. कांग्रेस पर हमला करते हुए मध्य प्रदेश के गृह मंत्री ने कहा कि वे जीत का दावा कर रहे हैं लेकिन आप पिछले 20 साल के चुनाव परिणाम को उठाकर देख लें. जनता बीजेपी के साथ थी और रहेगी.

आपको बता दें कि मध्यप्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए देवास जिले की सोनकच्छ सीट से भाजपा उम्मीदवार बनाए गए डॉ. राजेश सोनकर ने दावा किया कि वह बड़े अंतर से चुनाव जीतेंगे. सोनकर फिलहाल इंदौर जिले में भाजपा की ग्रामीण इकाई के अध्यक्ष हैं. अपनी उम्मीदवारी घोषित होने के बाद सोनकर ने मीडिया से बात की और कहा कि वह सोनकच्छ विधानसभा क्षेत्र में बडे़ अंतर से चुनाव जीतेंगे.

कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे सज्जन सिंह वर्मा पर कटाक्ष

उन्होंने सोनकच्छ के मौजूदा कांग्रेस विधायक और पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे सज्जन सिंह वर्मा पर भी हमला बोला. सोनकर ने कहा कि सोनकच्छ के मौजूदा विधायक की उदासीनता के कारण यह क्षेत्र पिछले पांच साल से उपेक्षित रहा है और क्षेत्र की जनता को सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाया है. सोनकर, बीजेपी के उन 39 नेताओं में शामिल हैं जिन्हें नवंबर में संभावित विधानसभा चुनाव से करीब तीन महीने पहले पार्टी ने उम्मीदवार घोषित किया.

कांग्रेस ने बीजेपी पर साधा निशाना

उधर, प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता नीलाभ शुक्ला ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि उम्मीदवारों की यह पहली सूची बताती है कि सत्तारूढ़ दल में हार का डर है. उन्होंने कहा कि भाजपा ने स्थानीय नेताओं की रायशुमारी के बगैर अपने उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी है जबकि विधानसभा चुनाव में अभी काफी समय है.

कमजोर सीट पर तैयारी के लिए भरपूर वक्त पार्टी और उम्मीदवारों को मिलेगा

बीजेपी ने मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव-2023 की अधिकृत घोषणा से काफी पहले गुरुवार को अपने 39 उम्मीदवारों की पहली सूची घोषित कर दी. मप्र में 230 सदस्यीय विधानसभा के लिए इस साल के अंत में चुनाव होना है. भाजपा ने जीन 39 सीट के लिए उम्मीदवार घोषित किये हैं उनमें से 38 सीट पर वर्तमान में कांग्रेस तथा एक सीट पर बहुजन समाज पार्टी (बसपा) का कब्जा है. बीजेपी द्वारा विधानसभा चुनाव की अधिकृत घोषणा से काफी पहले अपने उम्मीदवारों की घोषणा से जाहिर होता है कि पार्टी अपने आक्रमण में कोई कोर-कसर बाकी नहीं रखना चाहती है तथा अपनी कमजोर सीट पर तैयारी के लिए भरपूर वक्त पार्टी और उम्मीदवारों को देना चाहती है.

पांच महिला उम्मीदवारों को मैदान में उतारा गया

बीजेपी द्वारा जारी पहली सूची में पांच महिला उम्मीदवारों को मैदान में उतारा गया है. इनमें सरला विजेंद्र रावत (सबलगढ़ जिला मुरैना), प्रियंका मीणा (चाचौड़ा जिला गुना), ललिता यादव (छतरपुर), अंचल सोनकर (जबलपुर पूर्व), निर्मला भूरिया (पेटलावद जिला झाबुआ) शामिल हैं. बीजेपी ने कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह के अनुज वरिष्ठ विधायक लक्ष्मण सिंह की सीट चाचौड़ा से प्रियंका मीणा, विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष एनपी प्रजापति की सीट गोटेगांव से महेंद्र नागेश, विधानसभा की पूर्व उपाध्यक्ष हिना कांवरे की सीट लांजी से राजकुमार कर्राये, पूर्व मंत्री सुखदेव पांसे की सीट मुलताई से चंद्रशेखर देखमुख, पूर्व मंत्री आरिफ अकील की सीट भोपाल उत्तर से भोपाल के पूर्व महापौर आलोक शर्मा, कांग्रेस के चर्चित नेता आरिफ मसूद की सीट भोपाल मध्य से ध्रुवनारायण सिंह को भाजपा ने अपनी पहली सूची में उम्मीदवार बनाया है.

दमोह से बीजेपी ने लखन पटेल को उम्मीदवार घोषित किया

इसी प्रकार पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा की सीट सोनकच्छ से बीजेपी ने इंदौर जिले के सांवेर से पूर्व विधायक राजेश सोनकर, पूर्व मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ की सीट महेश्वर, जिला खरगोन से राजकुमार मेव, कांग्रेस के दिवंगत नेता सुभाष यादव के पुत्र एवं पूर्व मंत्री सचिन यादव की सीट कसरावद जिला खरगोन से आत्माराम पटेल, पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं प्रदेश के प्रमुख आदिवासी नेता कांतिलाल भूरिया की सीट झाबुआ से भानु भूरिया, पूर्व मंत्री सुरेंद्र सिंह बघेल की सीट कुक्षी जिला धार से जयदीप पटेल, प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी की सीट राऊ जिला इंदौर से मधु वर्मा को भाजपा ने उम्मीदवार घोषित किया है. बसपा विधायक रामबाई की सीट पथरिया जिला दमोह से बीजेपी ने लखन पटेल को उम्मीदवार घोषित किया है.

भाषा इनपुट के साथ

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.