केजरीवाल बताएं प्रदूषण से बचाव के लिए क्या किया: आदेश गुप्ता

0 83

आदेश गुप्ता ने कहा कि दिल्ली में पराली की वजह से करीब पांच फीसद प्रदूषण होता है। बाकी 95 फीसद की जिम्मेदारी केजरीवाल सरकार की है। मुख्यमंत्री बताएं कि उन्होंने प्रदूषण से बचाव के लिए अब तक क्या कदम उठाए।

नए दिल्ली (दिल्ली न्यूज़24) राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण बढ़ने के साथ ही केंद्र और दिल्ली सरकार में तकरार शुरू हो गई है। दिल्ली-एनसीआर में जैसे-जैसे प्रदूषण बढ़ रहा है, वैसे-वैसे सियासत भी तेज होने लगी है। दिल्ली के प्रदूषण को लेकर केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर के बयान का दिल्ली भाजपा ने समर्थन किया है। मंत्री जावडेकर का बचाव करते हुए दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कई सवाल पूछे हैं।

आदेश गुप्ता ने कहा कि दिल्ली में पराली की वजह से करीब पांच फीसद प्रदूषण होता है। बाकी 95 फीसद की जिम्मेदारी केजरीवाल सरकार की है। मुख्यमंत्री बताएं कि उन्होंने प्रदूषण से बचाव के लिए अब तक क्या कदम उठाए। उन्होंने कहा कि निगम के कर्मचारी से लेकर महापौर पानी का छिड़काव कर रहे हैं। निगम मैकेनिकल स्वीपर के माध्यम से सफाई कर रहे हैं। कूड़ा जलाने वालों पर कार्रवाई की जा रही है लेकिन दिल्ली सरकार कुछ नहीं कर रही है।

भाजपा नेता ने कहा कि प्रदूषण को लेकर दिल्ली सरकार हर साल की तरह सिर्फ बातें कर रही है। सरकार जो भी घोषणा करती है वह जमान पर नहीं उतरती। दिल्ली में 90 फीसद काम निगम कर रही है और 90 फीसद फंड दिल्ली सरकार के पास है। इसके बावजूद सरकार निगम को पैसे नहीं दे रही है। दिल्ली में सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को मजबूत क्यों नहीं किया? ।

केंद्रीय मंत्री ने दिया था यह बयान

केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर गुरुवार को कहा था कि दिल्ली-एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण के पीछे वजह भले ही पराली जलने को बताया जा रहा है, लेकिन हकीकत यह है कि आज तक की स्थिति में दिल्ली में 96 फीसद प्रदूषण के पीछे स्थानीय कारक हैं, पराली की मात्र सिर्फ चार फीसद ही है। ऐसे में राज्यों को अपनी जिम्मेदारी से बचने के बजाय प्रदूषण से निपटने के लिए ठीक तरीके से काम करना चाहिए।

जावडेकर के बयान पर भड़के केजरीवाल

जावडेकर के इस बयान पर दिल्ली के सीएम केजरीवाल भड़क गए थे। उन्होंने कहा था कि यदि पराली जलने से सिर्फ चार फीसद प्रदूषण हो रहा है, तो फिर अचानक रात में ही कैसे प्रदूषण फैल गया? उससे पहले तो हवा साफ थी। यह कहानी हर साल होती है। कुछ ही दिनों में दिल्ली में प्रदूषण को लेकर ऐसा कोई उछाल नहीं हुआ है? केजरीवाल ने कहा कि इस बात को मानना पड़ेगा कि हर वर्ष उत्तर भारत में पराली जलने की वजह से प्रदूषण फैलता है और इसके निदान के लिए हमें साथ में मिलकर लड़ना होगा। उन्होंने कहा कि राजनीति करने और एक-दूसरे पर आरोप लगाने से कुछ हासिल नहीं होगा, लोगों को नुकसान हो रहा है। कोरोना के समय में इस प्रदूषण का संकट चिंता का विषय है।