Karnataka में कांग्रेस के घोषणापत्र पर बवाल, BJP, VHP और बजरंग दल ने हनुमान चालीसा का पाठ कर जताया विरोध

35

कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2023 के लिए कांग्रेस की ओर से जारी घोषणापत्र का विरोध लगातार बढ़ता ही जा रहा है. कर्नाटक में बीजेपी, विश्व हिंदू परिषद (विहिप) और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने बवाल किया. बजरंग के कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस ऑफिस पर जमकर तोड़फोड़ किया. इधर राज्य में सभी मंदिरों में हनुमान चालीसा का पाठ किया गया.

कांग्रेस के विरोध में घर-घर हनुमान चालीसा पाठ करने की अपील

भाजपा नेता शोभा करंदलाजे ने पार्टी के अन्य कार्यकर्ताओं के साथ कांग्रेस पार्टी द्वारा जारी घोषणापत्र में बजरंग दल को बैन करने के कारण हुए विवाद को लेकर मल्लेश्वरम में मंदिर में हनुमान चालीसा का पाठ किया. पाठ के बाद उन्होंने कहा, मैंने आज सभी हिंदूओं से विनती की है कि शुक्रवार से पूजा के संदर्भ में हर घर में हनुमान चालीसा पढ़िए. हनुमान हमको शक्ति देते हैं, वो धर्म की रक्षा करते हैं. इसलिए हम हर घर में हनुमान चालीस पढ़ेंगे. उन्होंने कहा, कांग्रेस 60 वर्षों तक सत्ता में रही, लेकिन राम मंदिर नहीं बनाया. राम मंदिर के लिए हम लड़ रहे थे. कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने राम मंदिर का विरोध किया था, कोर्ट में गये थे. लेकिन हमारे पीएम मोदी ने राम मंदिर बनवाया. कर्नाटक में कांग्रेस कुछ नहीं करेगी, केवल ड्रामा करेगी. गौरतलब है कि बजरंग दल और विहिप से जुड़े नेताओं ने एक वीडियो संदेश जारी कर लोगों से बड़ी संख्या में अपने परिजनों के साथ हनुमान मंदिर या किसी भी अन्य मंदिर पहुंचकर ‘हनुमान चालीसा’ का पाठ करने की अपील की थी.

कांग्रेस के घोषणापत्र का क्यों हो रहा विरोध

कांग्रेस ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव को लेकर अपना घोषणा पत्र जारी किया. घोषणापत्र में कांग्रेस ने कर्नाटक में सत्ता में आने पर बजरंग दल सहित अन्य संगठनों पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव किया. कांग्रेस ने कर्नाटक चुनाव के लिए अपने घोषणापत्र में कहा है कि वह जाति और धर्म के आधार पर समुदायों के बीच नफरत फैलाने वाले व्यक्तियों और संगठनों के खिलाफ कड़ी और निर्णायक कार्रवाई करने के लिए प्रतिबद्ध है.

बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस के घोषणापत्र की प्रतियां फाड़ी

कर्नाटक सहित पूरे देशभर में कांग्रेस का विरोध किया जा रहा है. विहिप और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने बेंगलुरु, चिक्कबल्लापुर, श्रीरंगपटना, मांड्या और चिक्कमगलूरु में विरोध-प्रदर्शन किया. बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने अपना आक्रोश जाहिर करने के लिए कांग्रेस के घोषणापत्र की प्रतियां फाड़ीं और उन पर चप्पल मारी.

पीएम मोदी ने भी कांग्रेस पर बोला हमला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोला. उन्होंने कहा, पहले उन्होंने श्रीराम को ताले में बंद किया और अब जय बजरंगबली बोलने वालों को ताले में बंद करने का संकल्प लिया है. यह देश का दुर्भाग्य है कि कांग्रेस पार्टी को प्रभु श्रीराम से भी तकलीफ होती थी और अब जय बजरंगबली बोलने वालों से भी तकलीफ हो रही है. पीएम मोदी ने कर्नाटक के लोगों को वोट डालते समय बजरंग बली की जय बोलने की अपील की है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.