कर्नाटक : रक्षाबंधन से पहले महिलाओं को गृह लक्ष्मी योजना की सौगात, राहुल गांधी ने केंद्र पर साधा निशाना

19

Karnataka Gruha Lakshmi Scheme Launched : कर्नाटक सरकार ने राज्य की महिलाओं को रक्षाबंधन का उपहार दे दिया है. अपने चुनावी वादे को पूरा करते हुए राज्य सरकार ने कर्नाटक की करीब 1.1 करोड़ महिलाओं को तोहफा दिया है. बता दें कि यह उपहार कुछ और नहीं, बल्कि ‘गृह लक्ष्मी’ योजना की शुरुआत है. इस योजना के तहत राज्य की करीब 1 करोड़ महिलाओं को मासिक सहायता के रूप में 2 हजार रुपये दिए जाने है.

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव से पहले दी गयी थी पांच गारंटी

ऑल इंडिया कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष एम. मल्लिकार्जुन खरगे, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, मुख्यमंत्री सिद्धरमैया और उपमुख्यमंत्री डी के शिवकुमार ने बुधवार को महाराजा कॉलेज मैदान में हुए एक सार्वजनिक कार्यक्रम में यह घोषणा की. इस कार्यक्रम में हजारों की संख्या में लोग मौजूद थे. आपको बता दें कि धूमधाम के साथ शुरू की गयी गृह लक्ष्मी योजना कांग्रेस की कर्नाटक में विधानसभा चुनाव से पहले दी गयी पांच गारंटी में से एक है.

योजना के लिए 17,500 करोड़ रुपये का बजट तय किया

राज्य के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने कहा था कि उनकी सरकार ने पांच में तीन गारंटी ‘शक्ति’, ‘गृह ज्योति’ और ‘अन्न भाग्य’ पहले ही लागू कर दी हैं तथा चौथी गारंटी ‘गृह लक्ष्मी’ है. इस योजना को भी अब राज्य में लागू कर दिया गया है. जानकारी हो कि सरकार ने चालू वित्त वर्ष में ‘गृह लक्ष्मी’ योजना के लिए 17,500 करोड़ रुपये का बजट तय किया है. इस मौके पर मौजूद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर भी जमकर निशाना साधा. आइए पढ़ते है राहुल गांधी के संबोधन की कुछ प्रमुख बातें…

  • कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने महिलाओं के लिए गृह लक्ष्मी योजना शुरू करने के बाद कर्नाटक के मैसुरु में केंद्र सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि इन दिनों एक फैशन है कि दिल्ली में सरकार केवल अरबपतियों के लिए काम करती है.

  • साथ ही उन्होंने कहा कि हम कभी झूठे वादे नहीं करते और हमारी पार्टी हमेशा अपने वादों पर कायम रहती है.

  • वहीं, कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी ने सरकार पर हमला करते हुए यह भी कहा कि हमारी सोच यह है कि सरकार को गरीब लोगों के कल्याण के लिए काम करना चाहिए.

  • कर्नाटक में अपनी सरकार की तारीफ करते हुए उन्होंने यह भी कहा कि कर्नाटक में हमने जो काम किया है, उसे पूरे देश में दोहराया जाएगा.

  • राज्य सरकार की पांच मॉडल का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस की पांच ‘गारंटी’ महज योजनाएं नहीं बल्कि शासन का मॉडल हैं.

क्या है कर्नाटक सरकार की पांचवीं गारंटी ?

बता दें कि कर्नाटक सरकार की पांचवीं गारंटी ‘युवा निधि’ के तहत स्नातक कर चुके और डिप्लोमा धारक ऐसे बेरोजगार युवाओं को हर महीने क्रमश: 3,000 रुपये और 1,500 रुपये देने का प्रावधान है जिन्हें 2022-23 अकादमिक वर्ष में परीक्षा पास करने के छह महीने बाद भी नौकरी नहीं मिल सकी है. अधिकारियों ने बताया है कि यह योजना दिसंबर में शुरू की जाएगी.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.