कुर्सी संभालते ही एक्शन में सिद्धारमैया, बीजेपी सरकार के सभी लंबित कार्यों पर लगायी रोक

5

कर्नाटक में सत्ता संभालते ही सिद्धारमैया एक्शन में नजर आ रहे हैं. उन्होंने पूर्व की बीजेपी सरकार के द्वारा शुरू किये गये सभी लंबित कार्यों पर रोक लगा दी है. साथ ही फंड जारी करने पर भी रोक लगा दिया है. गौरतलब है कि हाल में संपन्न हुए कर्नाटक विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने धमाकेदार जीत दर्ज करते हुए 135 सीट जीतकर अपने दम पर राज्य में सरकार बनायी. जबकि बीजेपी 66 सीट लाकर सत्ता से बाहर हो गयी. 20 मई को सिद्धारमैया ने मुख्यमंत्री और डीके शिवकुमार ने उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली.

नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों के शपथ ग्रहण के साथ शुरू हुआ कर्नाटक की 16वीं विधानसभा का पहला सत्र

कर्नाटक में सिद्धारमैया के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार के सत्ता में आने के बाद राज्य की 16वीं विधानसभा का पहला सत्र सोमवार को सभी नव निर्वाचित प्रतिनिधियों के शपथ ग्रहण के साथ शुरू हुआ.

तीन दिवसीय सत्र के दौरान सभी 224 नव निर्वाचित प्रतिनिधि लेंगे शपथ

विधानसभा अधिकारियों के अनुसार, इस तीन दिवसीय सत्र के दौरान सभी 224 नव निर्वाचित प्रतिनिधि विधायक के रूप में शपथ लेंगे. इस दौरान नए विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव भी होगा. फिलहाल, प्रोटेम स्पीकर के रूप में सदन के सबसे वरिष्ठ सदस्य आर वी देशपांडे नव निवार्चित प्रतिनिधियों को शपथ दिला रहे हैं.

विधायक के रूप में इन्होंने ली शपथ

मुख्यमंत्री सिद्धारमैया, उपमुख्यमंत्री डी के शिवकुमार, मंत्री जी परमेश्वर, के एच मुनियप्पा, एम बी पाटिल, के जे जॉर्ज, सतीश जारकिहोली, प्रियंक खरगे ने विधायक के रूप में शपथ ले ली है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.