बजरंग दल ने कांग्रेस पर ठोका 100 करोड़ रुपये की मानहानि का दावा, मल्लिकार्जुन खरगे को भेजा नोटिस

55

कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2023 में कांग्रेस की घोषणापत्र को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. बीजेपी, बजरंग दल और VHP लगातार कांग्रेस पर हमलावर है. ताजा मामला ये है कि बजरंग दल ने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे पर मानहानि का दावा ठोक दिया है.

बजरंग दल ने खरगे पर ठोका 100 करोड़ रुपये का मानहानि

चंडीगढ़ बजरंग दल ने मानहानि का दावा करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को कानूनी नोटिस भेजा है. जिसमें 100 करोड़ रुपये का दावा ठोका है.

बजरंग दल ने नोटिस में क्या लगाया आरोप

बजरंग दल ने मल्लिकार्जुन खरगे को भेजे गये नोटिस में कांग्रेस पर आरोप लगाया, अपनी घोषणापत्र में संगठन पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की गयी. बजरंग दल की तुलना पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया जैसे आतंकवादी संगठनों और स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया जैसे आतंकवादी संगठनों से की गयी. पीएफआई और सिमी अल कायदा और आईएसआईएस से जुड़े आतंकवादी संगठन हैं और संयुक्त राष्ट्र महासभा और सौ से अधिक देशों द्वारा प्रतिबंधित और साथ ही गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम के तहत प्रतिबंधित अन्य वैश्विक आतंकवादी संगठन हैं. जबकि विश्व हिंदू परिषद के तत्वावधान में बजरंग दल सार्वभौमिकता, सहिष्णुता, धार्मिक एकता, राष्ट्रीय अखंडता और भारत माता की सेवा में विश्वास करता है और ऐसा करने के लिए भगवान राम और भगवान हनुमान के आदर्श उदाहरण से प्रेरणा लेता है. नोटिस में बताया गया कि कई आपदाओं में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने राष्ट्र की सेवा की है.

क्या है मामला

दरअसल कांग्रेस ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए दो मई को घोषणापत्र जारी किया था. जिसमें उसने वादा किया है कि प्रदेश में जाति एवं धर्म के आधार पर ‘नफरत फैलाने’ के लिए बजरंग दल और पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) जैसे संगठनों के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई की जाएगी. घोषणा पत्र में कहा गया है कि अगर राज्य में कांग्रेस की सरकार बनती है तो ऐसे संगठनों को प्रतिबंधित करने की कार्रवाई भी हो सकती है.

बजरंग दल, वीएचपी और बीजेपी ने जमकर किया विरोध

बजरंग दल पर प्रतिबंध की बात को लेकर हिंदु संगठन लगातार देशभर में विरोध कर रहे हैं. कर्नाटक में पिछले दिनों विरोध प्रदर्शन करते हुए बीजेपी और बजरंग दल ने घर-घर हनुमान चालीसा का पाठ किया. यही नहीं कर्नाटक चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कांग्रेस पर हमला किया और कहा, हनुमान भक्तों को बंद करने की कोशिश की जा रही है. कांग्रेस को कर्नाटक की जनता जवाब देगी. उन्होंने लोगों से वोट डालते समय बजरंग बली की जय कहने की आपील की.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.