Kangana Ranaut की इस फिल्म को हंसल मेहता ने बताया अपनी गलती, एक्ट्रेस ने कहा- ‘अच्छा सिला दिया तूने मेरे प्यार का…

0 99


बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनोट को अपने बयानों की वजह से बहुत बार आलोचना और विवादों का सामना करना पड़ता है। हालांकि वह अपने आलोचकों को बेबाकी से जवाब भी देती रहती हैं। कई फिल्मी सितारे भी कंगना रनोट की आलोचना करते रहते हैं। उनपर भी अभिनेत्री कभी पटलवार करने से पीछे नहीं हटती हैं। इन दिनों कंगना रनोट मशहूर फिल्म निर्माता-निर्देशक हंसल मेहता को जवाब करने की वजह से चर्चा में हैं।

दरअसल हाल ही में किसान आंदोलन के समर्थन में अन्ना हजारे ने आमरण अनशन की घोषणा की थी, लेकिन भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात के बाद उन्होंने अनशन करने से मना कर दिया। ऐसे में हंसल मेहता ने उनके इस फैसले पर सोशल मीडिया पर निराशा व्यक्त की। उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर लिखा, ‘मैंने विश्वास के साथ अन्ना हजारे का समर्थक किया था। अरविंद केजरीवाल के साथ भी ऐसा ही था। मुझे इस बात का दुख नहीं है। हम सभी गलतियां करते हैं। मैंने सिमरन बनाकर की थी।’

हंसल मेहता को यह बात कहना अभिनेत्री कंगना रनोट को पसंद नहीं आया और उन्होंने उनपर कटाक्ष किया है। हंसल मेहता के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए कंगना ने अपने लिखा, ‘यह सही है हंसल सर। यहां तक कि आप भी इस बात से सहमत होंगे कि मैं आपके साथ खड़ी रही और अब आप इस तरह की बात कर रहे हैं। ऐसा मुझे ऐसा लग रहा है कि जैसे ‘अच्छा सिला दिया तूने मेरे प्यार का’ गा रही हूं।’

वहीं कंगना ने इस ट्वीट पर अपनी सफाई देते हुए हंसल मेहता ने ट्विटर पर लिखा, ‘सबसे पहले, वह ट्वीट आपके बारे में नहीं था। दूसरी बात यह है कि इस फिल्म के बाद कुछ चीजें ऐसी हुईं जिन्होंने मुझे चोट पहुंचाई, जिससे मुझे फिल्म बनाने का अफसोस है। सभी ने कहा क्या आप एक बेहतरीन कलाकार हैं। उसके लिए मेरा सम्मान है। आपकी दया के लिए।’ सोशल मीडिया पर कंगना रनोट और हंसल मेहता का यह ट्वीट तेजी से वायरल हो रहे हैं।


इन दोनों कलाकारों के फैंस भी उनके ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। आपको बता दें कि हंसल मेहता ने साल 2017 में फिल्म ‘सिमरन’ का निर्देशन किया था। इस फिल्म में कंगना रनोट मुख्य भूमिका में थे। फिल्म की स्क्रिप्ट अपूर्व असरानी ने लिखी थी। यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा सकती है और यह फिल्म फ्लॉप साबित हुई। फिल्म ‘सिमरन’ को हंसल मेहता अपने करियर की नाकाम फिल्मों में गिनते हैं।