नई दिल्ली के शाहीन बाग में सड़क पर प्रदर्शन का मुद्दा पहुंचा HC,

0 100

 

नई दिल्ली :दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High Court) उस याचिका पर सुनवाई से शुक्रवार को इनकार कर दिया, जिसमें दक्षिण दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में प्रदर्शन के चलते रोजाना ट्रैफिक जाम लग रहा है।

बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (National Register of Citizens) के विरोध मे दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में पिछले 25 दिनों से भी अधिक समय से लगातार प्रदर्शन चल रहा है। इस दौरान बेहद ठंडा मौसम हुआ और फिर बारिश भी हुई, लेकिन प्रदर्शनकारी यहां पर डटे रहे।वहीं, यहां पर जाम के चलते लोगों को काफी परेशानी हो रही है, जिसके चलते एक शख्स ने दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर पर इस पर निर्देश देने के लिए कहा था।

पुलिस ने खड़े किए हाथ, ऊपर के आदेश का इंतजार

सरिता विहार आरडब्ल्यूए के एक पदाधिकारी ने बताया कि मदनपुर खादर गांव व सरिता विहार कॉलोनी के आरडब्ल्यूए के एक प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को डीसीपी चिन्मय बिश्वाल से मुलाकात कर धरना समाप्त करने की अपील की थी। लेकिन, उन्होंने ऊपर से आदेश होगा तभी कुछ किया जा सकता है कहते हुए हाथ खड़े कर दिए। वहीं, सरिता विहार निवासी सुमन बिरमानी ने बताया कि उन्हें आश्रम होते हुए नोएडा जाने में पांच घंटे लग गए। जबकि बमुश्किल से आधा घंटा लगता था।शाहीन बाग धरने के कारण दिल्ली-नोएडा-फरीदाबाद आने-जाने वाले लाखों लोगों को कई किलोमीटर का चक्कर काटकर आना-जाना पड़ता है। वहीं, इस मार्ग के बंद होने के कारण रिंग रोड, मथुरा रोड व डीएनडी पर यातायात का अतिरिक्त दबाव पड़ रहा है। इसके कारण इन मार्गो पर भयंकर जाम लग रहा है।