जेएनयू अपहरण: नशे में धुत युवक घुसे JNU कैंपस, छात्राओं से छेड़खानी कर अगवा करने का किया प्रयास, केस दर्ज

58

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) परिसर से नशे में धुत कुछ व्यक्तियों द्वारा दो छात्राओं का अपहरण करने की कोशिश का मामला सामने आया है. घटना के एक दिन बाद पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है. जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स यूनियन (JNUSU) के मेंबर्स ने आरोप लगाया कि नशे में धुत कुछ कार सवार लोग परिसर में घुस आए और उन्होंने दो छात्राओं का अपहरण करने की कोशिश की. जिसके बाद पुलिस ने दो अलग-अलग मामले दर्ज किए हैं. दक्षिण-पश्चिमी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) मनोज सी ने कहा, दो शिकायतें जेएनयू के स्टूडेंट्स से प्राप्त हुई हैं जिनमें से एक हमले को लेकर और दूसरी छेड़छाड़ और अपहरण की कोशिश से जुडी हुई है. मामले दर्ज कर लिए गए हैं. आगे बताते हुए उन्होंने कहा, दोनों मामलों में आरोपी और घटना में इस्तेमाल किया गया वाहन एक ही है. पुलिस इस मामले की जांच में लगातार जुटी हुई है.

एक आरोपी गिरफ्तार

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर एक व्यक्ति को पकड़ा है जिसकी पहचान अभिषेक के तौर पर हुई है. उन्होंने बताया कि वह यूनिवर्सिटी का छात्र नहीं है. जेएनयूएसयू ने कुलपति से भी पुलिस में शिकायत दर्ज कराने की मांग करते हुए एक बयान में कहा, जेएनयू की कुलपति को भी इस घटना के संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज करानी चाहिए. परिसर में बार-बार हो रही सुरक्षा चूक पर कुलपति को जेएनयू के लोगों से बात करनी चाहिए. बयान के मुताबिक, जिन छात्राओं पर हमला किया गया उनमें से एक की मेडिकल जांच कराई गई और उसने शिकायत दर्ज कराई है.

चार आरोपी फरार

जानकारी के मुताबिक इन आरोपियों ने साफ तौर पर कैंपस में घूम रहे अन्य छात्रों को भी परेशान किया हैं. इस मामले एक आरोपी अभिषेक को हिरासत में ले लिया गया है जबकि, अन्य चार आरोपी फिलहाल फरार हैं. घटनास्थल के आधार पर पुलिस ने वसंत कुंज और किशनगढ़ थाने में दो अलग-अलग एफआईआर दर्ज किया है. पहले मामले में दो छात्राओं को जो कि रात का खाना खा कर टहलने निकली थी उनके साथ छेड़खानी की गयी और उनका अपहरण करने की भी कोशिश की गयी थी. घटना पर बात करते हुए पुलिस ने बताया कि यह घटना रात के 11 बजे से 11:30 के बीच घटी है और रात के करीबन 1 बजे पीसीआर कॉल आयी थी.

लड़कियों को कार के अंदर खींचने की कोशिश

पुलिस को इस घटना की जानकारी किसी तीसरे छात्र ने कॉल पर दी थी. कॉल पर छात्र ने बताया कि नशे में धुत कुछ लोग दो छात्राओं को अपने कार के अंदर खींचने की कोशिश कर रहे थे. कार की पहचान स्विफ्ट डिजायर के रूप में हुई है. दोनों ही पीड़ित लड़कियों ने अगली सुबह थाने में शिकायत दर्ज कराई. छात्रों ने दावा किया कि जिस समय यह घटना हुई उस समय कार में पांच युवक थे और वे सभी नशे में थे. जब उन युवकों ने उन्हें कार के अंदर घसीटने की कोशिश की तो वे चिल्लाने लगी. लड़कियों द्वारा चिल्लाये जाने पर युवक डर गए और वहां से भाग गए.

पीएचडी स्कॉलर के साथ मार-पीट

इसी रात एक और घटना घटी. यह दूसरी घटना कॉलेज कैंपस के उत्तरी गेट के बाहर घटी. पुलिस ने बताया कि उन्हें रात के 12:30 बजे पीसीआर पर एक कॉल आया, आगे बताते हुए अधिकारी ने कहा कि पुरुष कार का दरवाजा खोलकर अंदर बैठ आइस क्रीम खा रहे थे. उसी दौरान ये छात्र वहां से गुजर रहे थे. छात्रों ने युवकों से कार का दरवाजा बंद करने को कहा. इसके बाद दोनों की पक्षों के बीच बहस होनी शुरू हो गयी और कथित तौर पर युवकों द्वारा छात्रों को पीटा गया. छात्र को मेडिकल जांच के लिए भेजा गया और युवाकों के खिलाफ किशनगढ़ पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 323 और आईपीसी की धारा 341 के तहत मामला डदर्ज किया गया. (भाषा इनपुट के साथ)

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.