एक्शन में जम्मू-कश्मीर पुलिस : टेरर फंडिंग मामले में पांच पाकिस्तानी आतंकवादियों के घर पर एसआईयू के छापे

32

किश्तवाड़/जम्मू : आतंकवाद और आतंकवादियों को वित्त पोषण करने के खिलाफ जम्मू-कश्मीर पुलिस एक्शन में आ गई है. एक रिपोर्ट के अनुसार, जम्मू-कश्मीर पुलिस की विशेष जांच इकाई (एसआईयू) ने सीमा पार से आतंकवाद को वित्त पोषण तथा समर्थन देने के एक मामले में किश्तवाड़ जिले में पांच आतंकवादियों के घरों में बुधवार को छापे मारे. एक वरिष्ठ आधिकारी ने बताया कि ये आतंकवादी पाकिस्तान से घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं और क्षेत्र में आतंकवाद को फिर से भड़काने की कोशिश कर रहे हैं.

पाकिस्तान या पीओके से घटना को अंजाम

किश्तवाड़ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक खलील पोसवाल ने बताया कि गैर-कानूनी गतिविधि (निरोधक)अधिनियम के तहत मामले में जम्मू की एनआईए की अदालत से तलाशी वारंट मिलने के बाद पांच आतंकवादियों के मकानों पर छापे मारे गए. ये लोग फिलहाल पाकिस्तान अथवा पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं. उन्होंने बताया कि एसआईयू की पांच टीम तथा पुलिस ने मिल कर छापे मारे.

एसआईयू ने चिरूल पड्यारना में मारे छापे

अधिकारी ने कहा कि छापे में मिले सुबूतों का इस्तेमाल देश विरोधी गतिविधियों तथा आतंकवाद की घटनाओं में उनकी भूमिकाओं के लिए उन्हें अभ्यारोपित करने में किया जाएगा. एसआईयू ने चिरूल पड्यारना के शाहनवाज उर्फ नईम, जामिया मस्जिद के नईम अहमद उर्फ आमिर उर्फ गाजी, किचलू मार्केट के मोहम्मद इकबाल उर्फ बिलाल, हुल्लार किश्तवाड़ के शाहनवाज उर्फ मुन्ना उर्फ उमर और कुंडली पोचाल के जावेद हुसैन गिरि उर्फ मुजामिल के घरों पर छापे मारे.

एनआईए अदालत ने जारी किए गैर-जमानती वारंट

बता दें कि जम्मू में एनआईए की अदालत ने 26 अप्रैल को किश्तवाड़ के 23 आतंकवादियों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था. ये आतंकवादी सीमा पार से गतिविधियों को अंजाम दे रहे हैं. इससे पहले 13 आतंकवादियों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया था. पोसवाल ने कहा कि किश्तवाड़ से 36 लोग आतंकवाद की राह पर चलते हुए पाकिस्तान चले गए थे। उनके खिलाफ दो प्राथमिकी दर्ज की गई थीं.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.