कर्मचारियों को तुरंत सैलरी दें औद्योगिक व व्यावसायिक प्रतिष्ठान : दिल्ली सरकार

0 196

दिल्ली न्यूज़ 24 रिपोर्टर।  दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के प्रतिष्ठानों से अपील की थी कि वे लॉकडाउन के दौरान का कर्मचारियों का वेतन दे दें। सरकार को शिकायतें मिल रही हैं कि प्रतिष्ठान उन्हें मार्च का पूरा वेतन नहीं दे रहे हैं। कई कर्मचारियों को अब तक वेतन ही नहीं मिला है। इसे देखते हुए दिल्ली सरकार सख्त हो गई है।

दिल्ली के मुख्य सचिव विजय देव ने राजधानी के सभी औद्योगिक व व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को अपने कर्मचारियों को तुरंत वेतन भुगतान करने का आदेश दिया है। सभी प्रतिष्ठानों को पूरे लॉकडाउन के समय का पूरा वेतन भुगतान करने को कहा गया है।

मुख्य सचिव ने अपने आदेश में कहा कि संयुक्त श्रम आयुक्त को इस प्रकार के मामले के निष्पादन के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। आदेश के अनुसार किसी भी जिले में जिलाधिकारी या किसी भी अन्य अधिकारी को औद्योगिक व व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के कर्मचारी की ओर से वेतन नहीं मिलने संबंधी शिकायत मिलते ही वे शिकायत को संयुक्त श्रम आयुक्त गुरुमुख सिंह को भेजेंगे। गुरुमुख सिंह सभी शिकायतों का तुरंत निदान सुनिश्चित करेंगे।

कोरोना के प्रकोप के चलते अप्रैल में त्योहारों के आयोजनों पर रोक

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए दिल्ली में सामाजिक, सांस्कृतिक व धार्मिक आयोजनों पर रोक लगा दी गई है। अब अप्रैल में पड़ने वाले त्योहार पर भीड़ जुटाने पर पाबंदी लगा दी गई है। शुक्रवार को दिल्ली के मुख्य सचिव विजय देव की ओर से इसको लेकर आदेश जारी कर दिया गया है। जिलाधिकारियों व जिला पुलिस उपायुक्त को अपने-अपने इलाके में इस आदेश का सख्ती से पालन करने का आदेश दिया है।मुख्य सचिव को ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि सभी धार्मिक स्थल भी पूजा के लिए बंद रहेंगे। इसके अलावा किसी भी तरह धार्मिक आयोजन अपवाद स्वरूप भी आयोजित करने की मंजूरी नहीं दी जाएगी। पुलिस की यह जिम्मेदारी है कि वह इसे कड़ाई से लागू करे। इसके साथ ही सोशल मीडिया पर किसी भी तरह की गलत खबरें व आपत्तिजनक सामग्री को लेकर निगरानी बढ़ाने का आदेश दिया गया है। अप्रैल में वैशाखी का त्योहार है। अब उसे भी सार्वजनिक रूप से मनाने पर रोक लगा दी गई है।