India Export Data: 11 महीनों के हाई पर पहुंचा एक्सपोर्ट

6

export data

India Export Data: एक तरफ चीन जैसे बड़े और विकसित देश की अर्थव्यवस्था सुस्त पड़ रही है. दूसरी तरफ, भारत निर्यात बढ़ता जा रहा है. सरकारी आंकड़ों के अनुसार, देश का निर्यात फरवरी में 11.9 प्रतिशत बढ़कर 41.4 अरब अमेरिकी डॉलर हो गया, जो चालू वित्त वर्ष का सर्वाधिक मासिक आंकड़ा है. वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, फरवरी में मुख्य रूप से इंजीनियरिंग सामान, इलेक्ट्रॉनिक वस्तुओं और दवा उत्पादों की विदेश में अच्छी मांग रही. हालांकि, सोने के आयात में उल्लेखनीय वृद्धि होने से फरवरी में व्यापार घाटा 18.7 अरब अमेरिकी डॉलर रहा, जो एक साल पहले इसी महीने में 16.57 अरब डॉलर था. पिछले महीने 60.1 अरब अमेरिकी डॉलर मूल्य की वस्तुओं का आयात किया गया, जो फरवरी 2023 के 53.58 अरब अमेरिकी डॉलर की तुलना में 12.16 प्रतिशत अधिक है. वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार फरवरी में सोने का आयात 133.82 प्रतिशत बढ़कर 6.15 अरब अमेरिकी डॉलर हो गया, जो एक साल पहले इसी अवधि में 2.63 अरब अमेरिकी डॉलर था.

Also Read: घर बनवाने के लिए भी पीएफ से मिलेगा पैसा, जानें लिमिट और प्रोसेस

44 अरब अमेरिकी डॉलर के सोने का हुआ आयात

चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-फरवरी के दौरान सोने का आयात 44 अरब अमेरिकी डॉलर रहा, जो पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 38.76 प्रतिशत अधिक है. वाणिज्य सचिव सुनील बर्थवाल ने इन आंकड़ों पर संवाददाताओं से कहा कि फरवरी के दौरान निर्यात में वृद्धि चालू वित्त वर्ष के किसी भी महीने के मुकाबले अधिक है. उन्होंने कहा कि रूस-यूक्रेन युद्ध और कुछ देशों में मंदी जैसी कई कठिनाइयों के बावजूद फरवरी में निर्यात अनुमान से अधिक रहा. उन्होंने कहा कि अगर आप चालू वित्त वर्ष के 11 महीनों को देखें तो यह सबसे अधिक निर्यात वृद्धि है. वस्तुओं के साथ ही समग्र रूप से भी ऐसा है. यह बहुत खुशी की बात है. उन्होंने भरोसा जताया कि चालू वित्त वर्ष (2023-24) में कुल निर्यात पिछले साल के रिकॉर्ड निर्यात से अधिक हो जाएगा.

इलेक्ट्रॉनिक सामानों का निर्यात 54.81 प्रतिशत बढ़ा

फरवरी में वस्तुओं के निर्यात में हुई वृद्धि में इंजीनियरिंग सामान, इलेक्ट्रॉनिक सामान, कार्बनिक और अकार्बनिक रसायन, दवाओं और पेट्रोलियम उत्पादों का विशेष योगदान रहा. फरवरी में इंजीनियरिंग सामान का निर्यात सालाना आधार पर 15.9 प्रतिशत बढ़कर 9.94 अरब अमेरिकी डॉलर रहा. इस दौरान इलेक्ट्रॉनिक सामानों का निर्यात 54.81 प्रतिशत बढ़कर तीन अरब अमेरिकी डॉलर के स्तर पर पहुंच गया. समीक्षाधीन माह में कार्बनिक और अकार्बनिक रसायनों का निर्यात 33.04 प्रतिशत बढ़कर 2.95 अरब डॉलर हो गया. फरवरी में दवा उत्पादों का निर्यात 22.24 प्रतिशत और पेट्रोलियम उत्पादों का निर्यात 5.08 प्रतिशत बढ़ा. चालू वित्त वर्ष के पहले 11 महीनों यानी अप्रैल-फरवरी 2023-24 में भारत का कुल निर्यात (वस्तुओं एवं सेवाओं को मिलाकर) 709.81 अरब डॉलर होने का अनुमान है, जो पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 0.83 प्रतिशत अधिक है.
(भाषा इनपुट)

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.