‘ऐसा हुआ तो भारत बन जाएगा पाकिस्तान और अफगानिस्तान’, सिद्धारमैया के बेटे यतींद्र ने दिया विवादित बयान

8

अयोध्या में भगवान राम की प्राण-प्रतिष्ठा को लेकर तैयारियों जोरशोर से चल रही है. देशभर के प्रसिद्ध लोगों को समारोह में शामिल होने के लिए निमंत्रण पत्र भेजा रहा है. प्राण-प्रतिष्ठा के भव्य समारोह को लेकर सजावट और सुरक्षा के कार्य तेजी से किए जा रहे हैं. इधर प्राण-प्रतिष्ठा को लेकर राजनीति भी तेज हो गई है. कांग्रेस सहित सभी विपक्षी पार्टियों ने बीजेपी पर अयोध्या राम मंदिर प्राण-प्रतिष्ठा को लेकर राजनीतिकरण करने का आरोप लगाया है. इसी सिलसिले में कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के बेटे यतींद्र सिद्धारमैया ने ऐसी विवादित टिप्पणी कर दी, जिसकी चर्चा तेजी से हो रही है.

तो भारत बन जाएगा पाकिस्तान और अफगानिस्तान जैसा: यतींद्र सिद्धारमैया

कांग्रेस नेता और कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया के बेटे यतींद्र सिद्धारमैया ने एक कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए कहा, धर्म के नाम पर तानाशाही ने पाकिस्तान और अफगानिस्तान को दिवालिया बना दिया है. बीजेपी के सहयोगी संगठन भारत को हिंदू देश बनाने जा रहे हैं. अगर ऐसा होने दिया तो हमारा देश भी पाकिस्तान और अफगानिस्तान बन जाएगा. उन्होंने आगे कहा, अगर देश धर्मनिरपेक्षता को छोड़कर धर्म के पीछे चला जाएगा तो इसका विकास नहीं होगा. आज धर्मनिरपेक्ष दर्शन को खतरा है. हमें ऐसी पार्टियों से सावधान रहना चाहिए जो धर्म का राजनीतिकरण करे.

भाजपा राममंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह का राजनीतिकरण कर रही : कांग्रेस नेता

कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी (केपीसीसी) के महासचिव आर.पद्मराज ने बुधवार को आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) लोगों के बीच खाई पैदा करने और चुनावी लाभ पाने के लिए अयोध्या स्थित राम जन्मभूमि मंदिर में रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह का राजनीतिकरण कर रही है. पद्मराज ने कहा कि भाजपा नेताओं द्वारा अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन पर की जा रही राजनीति को भगवान राम स्वीकार नहीं करेंगे. उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण सुप्रीम कोर्ट द्वारा विवाद के समाधान के बाद किया जा रहा है और भाजपा को इसका श्रेय नहीं लेना चाहिए.

22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के मद्देनजर सार्वजनिक अवकाश की मांग

कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि हुबली जिले में दो लोगों की गिरफ्तारी को लेकर भाजपा अवांछित राजनीति कर रही है. उडुपी के भाजपा विधायक यशपाल सुवर्ण ने 22 जनवरी को अयोध्या में रामलला के प्राण प्रतिष्ठा के मद्देनजर उस दिन राज्य में सार्वजनिक अवकाश घोषित करने की मांग की है. इस बारे में पूछे जाने पर पद्मराज ने कहा कि चूंकि यह समारोह राष्ट्रीय स्तर पर हो रहा है, इसलिए केंद्र उनकी इच्छा के अनुसार छुट्टी घोषित कर सकता है.

राम मंदिर में 22 जनवरी दोपहर 12 बजकर 20 मिनट पर होगी प्राण-प्रतिष्ठा की रस्म

अयोध्या में भगवान राम के मंदिर में प्राण-प्रतिष्ठा की रस्म आगामी 22 जनवरी को दोपहर 12 बजकर 20 मिनट पर होगी. राम मंदिर का निर्माण करा रही संस्था श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चम्पत राय ने इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा, प्राण-प्रतिष्ठा के बाद आरती करो, पास-पड़ोस के बाजारों में, मुहल्लों में भगवान का प्रसाद वितरण करो और सायंकाल सूर्यास्त के पश्चात दीपक जलाओ. ऐसा ही निवेदन आग्रह प्रधानमंत्री जी ने अयोध्या से सारे संसार का आह्वान करते हुए किया है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.