Independence Day 2020: दिल्ली में IB के अलर्ट के बाद कड़ी की गई लाल किले की सुरक्षा

0 120

नई दिल्ली । स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर लालकिले की सुरक्षा बेहद कड़ी कर दी गई है। 15 अगस्त को लेकर आईबी ने हाई अलर्ट जारी किया है। जिसमें कहा गया है कि अमेरिका में रहने वाले सिख फॉर जस्टिस के आकाओं ने 14, 15 और 16 अगस्त को लाल किले पर खालिस्तान का झंडा फहराने वाले को सवा लाख डालर देने का ऐलान किया है। इसको लेकर एक वीडियो भी जारी किया गया है। जिसके बाद से लाल किला और उसके आसपास सुरक्षा और कड़ी कर दी गई है। स्वतंत्रता दिवस जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है, वैसे ही दिल्ली पुलिस समेत सभी सुरक्षा एजेंसियों ने चौकसी और बढ़ा दी है।

सुरक्षा के इतने कड़े बंदोबस्त किए जा रहे हैं कि कोई परिंदा भी पर नहीं मार सके। दिल्ली पुलिस सिक्योरिटी ब्रांच के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक लाल किला के तीन किलोमीटर की परिधि में सभी घरों व दुकानों में जाकर वहां रहने वाले किराएदारों और अन्य बाहरी लोगो का पुलिस सत्यापन किया गया है। सत्यापन का काम दो महीने पहले ही शुरू कर दिया गया था। लालकिला के पीछे यमुना खादर में बड़ी संख्या में झुग्गियां है। सामने व अन्य दो तरफ लाजपत राय मार्केट, छोटी मोर सराय, बड़ी मोर सराय, भागीरथ प्लेस, अंगूरीबाग, दरीबा कला, शीशगंज गुरुद्वारा व साइकिल मार्केट में हजारों लोग रहते हैं।

इन इलाकों में पुलिस सत्यापन कराने में लापरवाही बरतने वाले 300 मकान मालिकों व दुकानदारों के खिलाफ धारा 188 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। डोर टू डोर जाकर पुलिसकर्मियों ने सत्यापन का काम पूरा किया।दिल्ली के सभी रेलवे स्टेशनों व बस अड्डे समेत सभी भीड़भाड़ वाले बाजारों पर पुलिस की पैनी नजर है। पुख्ता सुरक्षा के लिए चौकस पुलिस ने जगह-जगह सड़कों पर बैरिकेड लगाकर कई हफ्ते से वाहनों की जांच भी शुरू कर दी है। सभी महत्वपूर्ण इमारतों के समीप पुलिस की गश्त बढ़ा दी गई है।

दहशतगर्द अपने मनसूबे में सफल न हो इसके लिए दिल्ली के लोगों को जागरुक किया जा रहा है। मकान मालिकों से अपील की जा रही है कि वे उनके यहां रहने वाले प्रत्येक लोगों की सूचना अपने पास रखें। आम लोग, स्थानीय दुकानदार और रिक्शा चालकों को भी संदिग्ध व्यक्ति अथवा जानकारी मिलने पर इसकी सूचना तुरंत दिल्ली पुलिस कंट्रोल रूम को देने को कहा जा रहा है। खुफिया एजेंसियों को आशंका है कि स्वतंत्रता दिवस पर दहशतगर्द दहशत फैला सकते हैं। लिहाजा इसके लिए दिल्ली पुलिस सहित सभी सुरक्षा एजेंसियों ने कमर कस ली है।

भीड़भाड़ वाले जगहों पर पुलिस की तैनाती कर दी गई है। असमाजिक तत्वों की आवाजाही को रोकने के लिए प्रमुख सड़कों पर नजर रखी जा रही है। यह भी एहतियात बरती जी रही है कि संदिग्धों को दिल्ली में न आने दिया जाए। इसके लिए राजधानी की सीमाओं पर भी सतर्कता बढ़ा दी गई है। कई दिनों से बाहरी राज्यों से आने वाली निजी गाडि़यों की सघन चेकिंग के बाद ही दिल्ली में प्रवेश करने दिया जा रहा है।पुलिस के साथ लोगों की जागरूकता भी काफी अहम भूमिका अदा कर सकती है।