इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने एंट्री ऑपरेटर संजय जैन से बरामद किया 62 करोड़ रुपये कैश

0 51

नई दिल्ली,  आयकर विभाग को बड़ी कामयाबी मिली है। विभाग ने एंट्री ऑपरेटर संजय जैन और उनके सहयोगियों के पास से 62 करोड़ रूपये की नकदी बरामद की है। नोटबंदी के बाद दिल्ली-एनसीआर में यह अब तक का पहला ऐसा मामला है, जिसमें इतनी पड़ी रकम बरामद की गई है। सूत्रों के मुताबिक इनकम टैक्स डिपार्टमेंट द्वारा दिल्ली-एनसीआर, पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड और गोवा के 42 परिसरों में छापे मारे जा रहे हैं।

 

सूत्रों के मुताबिक, आयकर विभाग ने दिल्ली, एनसीआर, हरियाणा, उत्तराखंड, पंजाब और गोवा में एंट्री ऑपरेटर संजय जैन और उसके लाभार्थियों के 42 ठिकानों पर छापा मारा गया है।

बता दें कि आयकर विभाग ने कर चोरी के आरोप में इस सप्ताह के शुरू में राजस्थान स्थित तीन समूहों के परिसरों पर छापेमारी की थी, जिसमें लगभग 12 करोड़ रुपये जब्त किए गए। वहीं, शुक्रवार को अधिकारियों ने जानकारी दी थी कि विभाग ने दिल्ली, मुंबई, जयपुर और कोटा में 43 परिसरों की तलाशी के बाद लगभग 1.5 करोड़ रुपये के गहने भी बरामद किए थे।

केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड द्वारा सोमवार को कई स्थानों पर ताबड़तोड़ छापे मारे गए थे। इसमें बताया गया कि आयकर विभाग ने बीते दिन फर्जी बिलिंग के जरिए बड़ी संख्या में नकदी के प्रवेश संचालन और उत्पादन का रैकेट चलाने वाले व्यक्तियों के एक बड़े नेटवर्क का भंडाफोड़ किया और काफी मात्रा में रुपये और आभूषण को जब्त किया गया। यह छापे दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में करीब 42 परिसरों में मारे गए।

आयकर विभाग के मुताबिक, 500 करोड़ रुपये से अधिक की आवास प्रविष्टियों के सबूतों को जब्त कर लिया गया। छानबीन के दौरान 2.37 करोड़ रुपये की नकदी समेत 2.89 के आभूषण जब्त किए गए हैं। 17 बैंक लॉकरों की भी जानकारी मिली है, जिनका संचालन होना बाकी है।