Lok Sabha Election 2024: सीट शेयरिंग से पहले विपक्षी गठबंधन इंडिया में टकराव? इन राज्यों में फंस सकता है पेंच

20

Lok Sabha Election 2024: आगामी लोकसभा चुनाव के लिए विपक्षी दल ने गठबंधन किया है जिसे इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इंक्लूसिव अलायंस (I.N.D.I.A.) नाम दिया गया है. सहयोगी दलों के साथ सीट बंटवारे के संबंध में बातचीत करने के लिए गठित समिति राज्यों के कांग्रेस नेताओं के साथ बैठक कर रही है और आगे की रणनीति तैयार कर रही है. आपको बता दें कि समिति की ओर से कांग्रेस प्रमुख मल्लिकार्जुन खरगे को रिपोर्ट सौंप जाने के बाद घटक दलों के साथ औपचारिक बातचीत अगले सप्ताह शुरू होने की संभावना है. लोकसभा चुनाव अगले साल अप्रैल-मई में हो सकता है. जहां चुनाव के लिए सत्ता पक्ष पूरी तरह से तैयार है, वहीं सीट बंटवारे को लेकर इंडिया (I.N.D.I.A) गठबंधन में खींचतान शुरू हो गई है.

कहां-कहां फंस सकता है पेंच

विपक्षी गठबंधन इंडिया अलायंस में सीट बंटवारे का फॉर्मूला कैसा रहेगा? यह सवाल लोगों के मन में आ रहा है. गठबंधन के सहयोगी दलों में अभी से टकराव और विवाद की खबर आ रही है जो लोकसभा चुनाव से पहले अच्छे संकेत नहीं दे रहा है. महाराष्ट्र की बात करें तो यहां लड़ाई सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर नजर आ रही है. शिवसेना (उद्धव गुट) और कांग्रेस नेता आपस में उलझते दिख रहे हैं. वहीं बात पश्चिम बंगाल की करें तो यहां मुख्यमंत्री और टीएमसी नेता ममता बनर्जी ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि वो अपने राज्य में अकेले चुनावी मैदान में उतरेंगी. यानी कांग्रेस और लेफ्ट के साथ सीट शेयरिंग के लिए ममता बनर्जी तैयार नहीं है. इसी तरह सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव का यूपी में अलग रुख नजर आ रहा है.

दिल्ली और पंजाब में आप बनाम कांग्रेस

पंजाब और दिल्ली में भी सीट शेयरिंग पर पेंच फंसता नजर आ रहा है. हालांकि, दिल्ली की बैठक के बाद कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे का बयान सामने आया था. उन्होंने कहा था कि पहले राज्य स्तर पर सीटों का मसला सुलझाने का प्रयास किया जाएगा. यदि वहां बात नहीं बन पाई तब इसे दिल्ली में सुलझाया जाएगा. दिल्ली और पंजाब जैसे राज्यों में जहां परेशनी हो रही है, वहां समस्या कैसे सुलझाना है, इसपर बाद में बातचीत होगी. आपको बता दें कि दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने पंजाब की सभी 13 सीटें पर दावेदारी ठोक दी है.

यहां चर्चा कर दें कि इंडिया गठबंधन की बैठक में सीटों को लेकर सहमति बनाने के लिए 31 दिसंबर की डेडलाइन तय है. अब सीट शेयरिंग के बारे में उसके बाद ही पता चल पाएगा.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.