विपक्षी गठबंधन I.N.D.I.A. का देशभर में प्रदर्शन आज, सांसदों के निलंबन के विरोध में उतरेंगे सड़क पर

6

I.N.D.I.A. Alliance Protest : संसद का शीतकालीन सत्र गुरुवार को ही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो गया. इस बार के सत्र में रिकार्ड सांसदों को निलंबित किया गया जिसके विरोध में विपक्षी गठबंधन I.N.D.I.A. के नेता आज सड़कों पर उतरने वाले है. कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और गठबंधन के अन्य सदस्य सुबह 11 बजे दिल्ली के जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन को संबोधित करेंगे.

प्रदर्शन देशभर में किए जाने की योजना

साथ ही आपको बता दें कि यह प्रदर्शन देशभर में किए जाने की योजना है. इस मामले पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बयान की मांग के साथ 13 दिसंबर को संसद सुरक्षा के उल्लंघन की घटना के बाद शीतकालीन सत्र में व्यवधान के बाद लोकसभा और राज्यसभा दोनों में निलंबन की एक श्रृंखला शुरू हुई. सत्र के अनिश्चित काल के समापन से पहले, तीन और विपक्षी सांसदों को लोकसभा से निलंबित कर दिया गया, जिससे निलंबन की कुल संख्या रिकॉर्ड तोड़ 146 हो गई.

मल्लिकार्जुन खरगे ने केंद्र सरकार पर लगाया आरोप

गुरुवार को निलंबित सांसदों सहित विपक्षी सांसदों ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ के कदम के विरोध में संसद से विजय चौक तक मार्च किया. पहले विरोध प्रदर्शन के दौरान, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने केंद्र सरकार से “लोकतांत्रिक तरीके से व्यवहार करने” का आग्रह किया, आरोप लगाया कि भाजपा को लोकतंत्र में विश्वास नहीं है.

‘संसद एक बड़ी पंचायत’

मल्लिकार्जुन खरगे ने अपने बयान में कहा है कि संसद एक बड़ी पंचायत है. संसद में नहीं बोलेंगे तो कहां बोलेंगे. यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि गृह मंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री मोदी सुरक्षा उल्लंघन के बारे में अवगत कराने के लिए सदन में नहीं आए. उन्होंने उन मुद्दों के बारे में बात की जिन पर सदन के अंदर और बाहर बात होनी चाहिए. साथ ही खरगे ने कहा कि पीएम मोदी ने संसद के अंदर सुरक्षा उल्लंघन के मुद्दे पर न बोलकर संसदीय विशेषाधिकार का उल्लंघन किया है.

किस सदन से कितने सांसद?

लोकसभा में तख्तियां दिखाने और सदन की अवमानना करने को लेकर गुरुवार को कांग्रेस के तीन सदस्यों- दीपक बैज, डीके सुरेश और नकुल नाथ को संसद के वर्तमान शीतकालीन सत्र की शेष अवधि के लिए निलंबित कर दिया गया. इसके साथ ही लोकसभा के निलंबित विपक्षी सदस्यों की संख्या 100 हो गयी और दोनों सदनों को मिलाकर यह आंकड़ा 146 पर पहुंच गया. निचले सदन से निलंबित कुल 100 सदस्यों में से 97 को मौजूदा शीतकालीन सत्र की शेष अवधि के लिए निलंबित किया गया है, जबकि तीन सांसदों का निलंबन विशेषाधिकार समिति की रिपोर्ट आने तक जारी रहेगा.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.