प्लाइट में भिड़ गये पति पत्नी, परेशान होकर पायलट ने दिल्ली में ही उतार दिया विमान, जानिए क्या है पूरा मामला

6

पति पत्नी के बीच छिड़ गई लड़ाई… वो भी जमीन से कई फीट ऊपर फ्लाइट के अंदर, शायद आपको यकीन न हो रहा हो लेकिन मियां बीवी की लड़ाई में फ्लाइट की इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी. म्यूनिख से बैंकॉक के बीच उड़ान भर रहे लुफ्थांसा के एक विमान में सवार पति पत्नी के बीच किसी बात को लेकर कहा सुनी शुरू हो गई. देखते ही देखते बात इतनी बढ़ की आस-पास के लोगों के लिए परेशानी बनने लगी. क्रू मेंबर ने बीच बचाव की कोशिश की, लेकिन पति पत्नी के बीच सुलह नहीं हो सकी.दंपति के बीच कहासुनी के दौरान ऐसी नौबत आ गई कि विमान को दिल्ली लाना पड़ा और उन दोनों को इसमें से उतार दिया गया.

लुफ्थांसा की उड़ान संख्या एलएच 772 को सुबह 10.26 बजे इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतारना पड़ा. इससे पहले विमान के पायलट ने एटीसी से संपर्क कर उन्हें ‘परिस्थिति’ के बारे में सूचना दी थी. सूत्रों ने बताया कि विमान में सवार एक जर्मन व्यक्ति और उसकी थाई पत्नी के बीच कहासुनी होने के बाद विमान में स्थिति बिगड़ गई जिसके बाद आईजीआई हवाई अड्डे पर उतरने की अनुमति मांगी गई जो दे दी गई.

एक अधिकारी ने बताया कि पत्नी ने पहले अपने पति के बर्ताव के बारे में पायलट से शिकायत की और कहा कि उसे धमकाया जा रहा है. उसने हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया. लुफ्थांसा ने एक बयान में कहा कि उड़ान में सवार एक उपद्रवी यात्री की वजह से विमान को दिल्ली में उतारना पड़ा. जर्मन एयरलाइन ने कहा, ‘‘उक्त व्यक्ति को अधिकारियों के सुपुर्द कर दिया गया. बैंकॉक की उड़ान मामूली विलंब के बाद जारी रह सकती है.

विमान में हमारे यात्रियों और चालक दल की सुरक्षा हमारी शीर्ष प्राथमिकता है.’’ सूत्रों के अनुसार 53 वर्षीय जर्मन यात्री ने कथित तौर पर खाना फेंका, लाइटर से एक कंबल को जलाने का प्रयास किया, वह अपनी पत्नी पर चिल्लाया और उसने विमान कर्मियों के निर्देशों का पालन नहीं किया और इसलिए पायलट ने विमान की दिशा बदल दी और बाद में केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के कर्मियों ने व्यक्ति को उतारा. उन्होंने बताया कि पत्नी एक अलग पीएनआर वाले टिकट पर यात्रा कर रही थी और वह अपनी बैंकॉक की यात्रा जारी रखना चाहती थी.

सूत्रों के अनुसार एयरलाइन यहां स्थानीय जर्मन दूतावास से संपर्क में है. कथित उपद्रवी यात्री को या तो दिल्ली पुलिस के सुपुर्द करने या उसकी माफी पर विचार कर उसे दूसरी उड़ान में जर्मनी वापस भेजने पर फैसला लंबित है. सूत्रों के अनुसार विमान कुछ समय में अपने गंतव्य के लिए उड़ान भर सकता है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.