दिल्ली से हिमाचल तक ‘जलप्रलय’, मूसलाधार बारिश से बह गये घर और वाहन, खतरे के निशान से ऊपर यमुना

65

उत्तर भारत के कई राज्य बारिश से पानी-पानी हो गये हैं. दिल्ली, पंजाब और हिमाचल समेत कई राज्यों में भारी बारिश बाढ़ की स्थिति हो गई है. बीजे 24 घंटों से हो रही बारिश के कारण करोड़ों का नुकसान हो चुका है. वहीं बाढ़ और लैंडस्लाइड के कारण 50 से ज्यादा लोगों की जान चली गई है. हिमाचल प्रदेश में आज यानी सोमवार को लगातार तीसरे दिन भी बारिश का कहर जारी है.

तेज बारिश के कारण हिमाचल प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में 300 से ज्यादा लोग फंसे हुए है. हिमाचल प्रदेश के मनाली में फंसे 20 लोगों को बचा लिया गया लेकिन पहाड़ी राज्य के विभिन्न हिस्सों में करीब 300 अन्य लोग फंसे हुए हैं. हिमाचल प्रदेश राज्य में भारी बारिश के बाद भूस्खलन, घरों को नुकसान पहुंचाने और कई लोगों की मौत होने के एक दिन बाद मौसम विभाग ने सोमवार को अत्यंत भारी बारिश के लिए रेड अलर्ट जारी किया है.

Himachal Pradesh
Himachal Weather

हिमाचल प्रदेश के साथ-साथ देश का राजधानी दिल्ली भी जलमग्न है. दिल्ली की अधिकांश सड़कें पानी से लबालब हैं. आफत की बरसात के कारण हर तबाही का मंजर दिखाई दे रहा है. राष्ट्रीय राजधानी में प्रगति मैदान सुरंग पर जलभराव के कारण जाम लगने के कारण इसे सोमवार को यातायात के लिए बंद कर दिया गया.

वहीं, पंजाब और हरियाणा के कुछ हिस्सों में सोमवार को लगातार तीसरे दिन बारिश हुई और अधिकारी संकट के समय में सबसे अधिक प्रभावित स्थानों पर लोगों तक पहुंचने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रहे हैं. मौसम विभाग के अनुसार, पंजाब और हरियाणा के कई हिस्सों में सुबह से बारिश हो रही है.

यमुना लबालब

उत्तर भारत में मूसलाधार बारिश के कहर के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वरिष्ठ मंत्रियों और अधिकारियों से बात कर स्थिति का जायजा लिया जबकि कांग्रेस प्रमुख मल्लिकार्जुन खरगे ने बारिश प्रभावित राज्यों के लिए पीएम केयर्स फंड से राहत की मांग की. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शहर में मूसलाधार बारिश के कारण हुए जलभराव और यमुना के बढ़ते जलस्तर पर चर्चा करने के लिए एक बैठक की.

weather news
Weather News

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने सोमवार सुबह जारी एक वीडियो में लोगों से अपील की कि वे भारी बारिश में घरों से बाहर निकलने से बचें, खासकर नदियों और नालों के पास.

इधर बारिश को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को घोषणा की कि यमुना के 206 मीटर के निशान को छूने पर नदी के आस-पास के निचले इलाकों से लोगों को निकालना शुरू किया जाएगा. उन्होंने लोगों को भरोसा दिलाया कि विशेषज्ञों के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में बाढ़ की स्थिति संभवत पैदा नहीं होगी.

Weather

मूसलाधार बारिश और यमुना के बढ़ते जल स्तर पर बैठक करने के बाद केजरीवाल ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सरकार स्थिति पर निकटता से नजर रख रही है और इससे निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है. उन्होंने कहा अप्रत्याशित बारिश ने लोगों के लिए समस्या पैदा कर दी है और दिल्ली की प्रणाली इसे झेलने में सक्षम नहीं थी. बारिश के बाद हर साल कुछ इलाकों में पानी भर जाता है और कुछ ही घंटों में पानी निकल जाता है, लेकिन 153 मिलीमीटर बारिश अप्रत्याशित है. ऐसा करीब 40 साल पहले हुआ था.

पंजाब और हरियाणा के कई हिस्सों में सोमवार को लगातार तीसरे दिन भारी बारिश के कारण जन-जीवन अस्त-व्यस्त हुआ. प्रभावित इलाकों में लोगों तक पहुंचने के लिए प्रशासन 24 घंटे काम कर रहा है. मौसम विभाग के अनुसार, पंजाब और हरियाणा के कई हिस्सों में सुबह से ही बारिश हो रही है.

7
Weather Delhi

अधिकारियों ने बताया कि लगातार हो रही बारिश के कारण उत्पन्न हुई स्थिति को देखते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने अपने सभी पूर्व-निर्धारित कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं और गृह, आपदा प्रबंधन और शहरी स्थानीय निकाय सहित विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों की एक आपातकालीन बैठक बुलाई.

जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग सोमवार को भी लगातार तीसरे दिन बंद रहा. 270 किलोमीटर लंबे राजमार्ग पर यातायात बहाल करने के लिए मरम्मत का कार्य चल रहा है क्योंकि यह मार्ग हर मौसम में कश्मीर को पूरे देश से जोड़ता है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी.

भारी बारिश के कारण राजमार्ग पर जगह जगह हुए भूस्खलन और रामबन जिले के करीब पंथियाल सुरंग एवं चंबा-सिरी के करीब सड़क का एक हिस्सा क्षतिग्रस्त होने के चलते इसे शनिवार को वाहनों के आवगमन के लिए बंद कर दिया गया था. राजमार्ग पर हजारों वाहन फंसे हुए हैं. यातायात विभाग के एक अधिकारी ने कहा,चंबा-सिरी मार्ग को छोड़कर, जहां सड़क का 60 मीटर का एक हिस्सा ढह गया था, शेष राजमार्ग लगभग दुरूस्त है और यह वाहनों की आवाजाही के लिए ठीक है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.