VIDEO: बाढ़ पीड़ित महिला ने जेजेपी विधायक को जड़ा थप्पड़, प्रभावित क्षेत्र का करने गये थे दौरा

61

हरियाणा में बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा करना जेजेपी (जननायक जनता पार्टी) विधायक ईश्वर सिंह को उस समय भारी पड़ गया, जब बाढ़ पीड़ित एक महिला ने उन्हें जोरदार थप्पड़ जड़ दिया. विधायक को थप्पड़ जड़ते हुए महिला का वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

बाढ़ पीड़ितों का हाल जानने गये थे विधायक, उल्टे पांव गांव से भागना पड़ा

घग्गर नदी उफान पर है, जिससे हिरयाणा के भाटिया गांव में बाढ़ का पानी घुस गया. स्थानीय लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. कई लोग बेघर हो गये. इस बीच जननायक जनता पार्टी विधायक ईश्वर सिंह बाढ़ क्षेत्र का दौरने भाटिया गांव पहुंचे और पीड़ित ग्रामीणों का हालचाल जानने लगे. लेकिन उन्हें ग्रामीणों के गुस्से का सामना करना पड़ा. गांव के लोग विधायक से खासा नाराज थे. बाढ़ से परेशान एक पीड़ित महिला को विधायक की बात पसंद नहीं आयी और ईश्वर सिंह को जोरदार थप्पड़ जड़ दिया. नेताजी को भी समझ में नहीं आया कि आखिर उनके साथ अचानक ये क्या होगा. बाद में विधायक के अंगरक्षकों ने उन्हें गाड़ी पर बैठाया और गांव से वापस लौट गये.

क्यों नाराज हैं ग्रामीण

दरअसल नाके टूटने की वजह से भाटिया गांव में चारो तरफ से बाढ़ का पानी भर गया. जिससे गांव जलमग्न हो गया. गांव के लोगों को खासा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. आरोप है कि जब गांव के लोगों ने जेसीबी की मांग की तो प्रशासन ने देने से इनकार कर दिया. जिससे गांव के लोग प्रशासन और विधायक से नाराज हो गये.

हरियाणा में बारिश से अबतक 18 लोगों की मौत

पंजाब और हरियाणा में भारी बारिश और बाढ़ की वजह से अबतक 18 लोगों की मौत हो चुकी है. जिनमें सात मौतें हरियाणा में हुईं. सरकारी आंकड़े के अनुसार फरीदकोट जिले में तीन लोगों की मौत के साथ पंजाब में बारिश के कारण हुए हादसों में मरने वालों की संख्या 11 हो गई.

भारी बारिश अपने पीछे तबाही का मंजर छोड़ गई

भारी बारिश अपने पीछे तबाही का मंजर छोड़ गई है, करोड़ों की संपत्ति बर्बाद हो चुकी है और खेत जलमग्न हो गए हैं. पंजाब में पिछले तीन दिनों में लगभग 10 हजार लोगों को जलभराव वाले इलाकों से सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया जा चुका है. पटियाला, रूपनगर, मोगा, लुधियाना, मोहाली, एसबीएस नगर और फतेहगढ़ साहिब जिलों से लोगों को निकाला गया है. सेना की मदद से राज्य आपदा प्रबंधन दल, एनडीआरएफ और विभिन्न सरकारी विभाग राहत और बचाव कार्य में जुटे हैं.

भारी बारिश के कारण रेल सेवा भी बाधित

भारी बारिश की वजह से रेल सेवा भी प्रभावित हुई है. अंबाला के रेलवे अधिकारियों ने बताया कि विश्व धरोहर कालका-शिमला रेल खंड जगह-जगह पेड़ और मलबा गिरने से बाधित है. इस मार्ग पर 16 जुलाई तक रेल सेवा बंद कर दी गई है. अधिकारियों ने बताया कि अंबाला-सहारनपुर मार्ग पर घस्तीपुर में रेलवे लाइन के नीचे से मिट्टी बह गई है, जिससे काफी नुकसान हुआ है. इसके कारण मंगलवार को 30 रेलगाड़ियों को रद्द करना पड़ा और छह रेलगाड़ियों का परिचालन परिवर्तित मार्ग से किया गया.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.