गुजरात : PMO का फर्जी अधिकारी गिरफ्तार, एडमिशन दिलाने के नाम पर वसूल रहा था मोटी रकम

6

गुजरात के वडोदरा शहर में प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) का अधिकारी बनकर यहां एक निजी स्कूल में दो बच्चों का दाखिला कराने वाले और अपनी फर्जी पहचान की बदौलत बड़ी रकम ठगने की कोशिश करने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया है. एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी.

पीएमओ का अधिकारी बनकर होटल के आतिथ्य सत्कार का आनंद लिया

आरोपी मयंक तिवारी को शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया. कुछ महीने पहले अहमदाबाद निवासी किरण पटेल को भी खुद को प्रधानमंत्री कार्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के रूप में पेश करने के आरोप में जम्मू-कश्मीर के एक पांच सितारा होटल से गिरफ्तार किया गया था. पटेल ने पीएमओ का अधिकारी बनकर होटल के आतिथ्य सत्कार का आनंद लिया था और जेड प्लस सुरक्षा भी प्राप्त की थी.

रणनीतिक सलाहकार के रूप में अपनी पहचान बताई 

शहर के वाघोडिया थाने के एक अधिकारी ने कहा कि नयी दिल्ली में पीएमओ में निदेशक (रणनीतिक सलाहकार) के रूप में अपनी पहचान बताकर तिवारी पहली बार प्रवेश सत्र के दौरान मार्च 2022 में स्कूल और उसके न्यासी के संपर्क में आया.

संदेह के बाद हुआ खुलासा 

प्राथमिकी में कहा गया है कि कुछ महीने बाद न्यासी को तिवारी के दावों पर संदेह हुआ, तो उन्होंने उसके बारे में जानकारी जुटानी शुरू की. बाद में उन्हें पता चला कि तिवारी पीएमओ का अधिकारी नहीं है और उसने उनके साथ धोखा किया है. इसके बाद न्यासी ने पिछले महीने स्कूल को सचेत किया. स्कूल प्रशासन की शिकायत पर, वाघोडिया पुलिस ने शुक्रवार को तिवारी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 406 (विश्वासघात), 420 (धोखाधड़ी), और 170 (एक लोक सेवक का प्रतिरूपण) के तहत मामला दर्ज किया और उसे गिरफ्तार कर लिया.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.