GPT healthcare IPO से कमाई का आज आखिरी मौका

9

IPO News

GPT Healthcare IPO: अगर आप किसी बेहतर आईपीओ में पैसा लगाकर बेहतर रिटर्न पाना चाहते हैं तो आपके पास आज आखिरी मौका है. जीपीटी हेल्थकेयर लिमिटेड के IPO के लिए आवेदन पिछले सप्ताह गुरुवार को शुरू हुआ था. आज आवेदन की आखिरी तिथि है. हेल्थकेयर से जुड़ी मल्टी-स्पेशियलिटी हॉस्पिटल कंपनी के आईपीओ का प्राइस बैंड 177 रुपये से 186 रुपये प्रति इक्विटी शेयर तय किया गया है. जीपीटी हेल्थकेयर आईपीओ को पहले दो दिनों में 0.85 गुना सब्सक्राइब किया गया है. शेयर मार्केट ऑब्जर्वर के अनुसार, दो दिनों की बोली के बाद, आईपीओ के शेयर आज ग्रे मार्केट में 9 रुपये के प्रीमियम पर उपलब्ध हैं. हालांकि, ये पिछले सप्ताह केवल चार रुपये था. शेयर मार्केट ऑब्जर्वर के अनुसार, ग्रे मार्केट के सेंटिमेंट में सुधार का श्रेय दलाल स्ट्रीट पर ट्रेंड रिवर्सल को दिया जा सकता है क्योंकि सार्वजनिक निर्गम की बोली के पहले दो दिनों में प्राथमिक बाजार निवेशकों से सुस्त प्रतिक्रिया मिली है.

Read Also: खुलते ही धड़ाम से गिरा शेयर बाजार, सेंसेक्स 148 अंक टूटा, निफ्टी भी लाल

क्या है GPT Healthcare IPO की स्थिति

GPT Healthcare IPO को दो दिनों की बोली के बाद, बुक बिल्ड इश्यू को 0.85 गुना सब्सक्राइब किया गया, जबकि पब्लिक इश्यू के रिटेल हिस्से को 1.25 गुना बुक किया गया है. सार्वजनिक निर्गम की (NII) segment एनआईआई खंड को 0.79 गुना बुक किया गया है जबकि (QIB) क्यूआईबी हिस्से को 0.19 गुना मिला है. स्टॉक एक्सचेंजों पर उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, इस इश्यू को प्रस्तावित 1,97,63,327 इक्विटी शेयरों के मुकाबले 177 रूपए से 186 रूपए के मूल्य बैंड पर 1,67,75,440 शेयरों की बोलियां प्राप्त हुईं.

क्या हैं एक्सपर्ट की राय

रिलायंस सिक्योरिटीज, निर्मल बंग, आनंद राठी, मेहता इक्विटीज और एसएमआईएफएस जैसी प्रमुख ब्रोकरेज फर्मों ने जीपीटी हेल्थकेयर लिमिटेड को “सब्सक्राइब” रेटिंग दी है. आबादी वाले शहरों में कंपनी के हॉस्पिटल हैं. सेवा क्षेत्र में कंपनी की अच्छी स्थिति है.

कब होगी शेयरों की लिस्टिंग

कंपनी के शेयरों की लिस्टिंग बीएसई और एनएसई पर होने वाली है. इसकी लिस्टिंग 29 फरवरी को होने की संभावना जतायी जा रही है.

कितना करना होगा निवेश

खुदरा निवेशकों‍ को एक लॉट में 80 शेयर पर बोली लगानी होगी. इसका अर्थ है कि कम से कम 14,160 रुपये का निवेश करना होगा.

क्या करती है कंपनी

कोलकाता में 2000 में आठ बिस्तरों के अस्पताल से शुरुआत करने वाली जीपीटी हेल्थकेयर 561 बिस्तरों की कुल क्षमता के साथ चार विभिन्न सुविधाओं से युक्त अस्पताल चलाती है. बीते वित्त वर्ष (2022-23) में कंपनी की कुल आय 7.11 प्रतिशत बढ़कर 366.73 करोड़ रुपये रही, जो वित्त वर्ष 2021-22 में 342.40 करोड़ रुपये थी. कंपनी का शुद्ध लाभ वित्त वर्ष 2022-23 में घटकर 39.01 करोड़ रुपये रह गया, जो 2021-22 में 41.66 करोड़ रुपये था.

(नोट: शेयर बाजार में निवेश बाजार जोखिम के अंतर्गत है. किसी भी आईपीओ में पैसा लगाने से पहले किसी वित्तिय सलाहकार से पूरी जानकारी लें लें.)

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.