आज से 50 रुपये किलो टमाटर बेचेगी सरकार, दिल्ली-एनसीआर और बिहार में घटेंगे दाम

10

नई दिल्ली : केंद्र की मोदी सरकार की ओर से टमाटर की बढ़ती कीमतों को थामने के लिए कदम उठाए गए हैं. थोक सब्जी मंडियों में टमाटर की कीमतों में गिरावट आने के साथ ही सरकार ने सस्ती कीमतों पर इसे बेचने का फैसला किया है. मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, थोक बाजार में कीमतों में गिरावट के मद्देनजर केंद्र सरकार ने सहकारी समितियों (एनसीसीएफ और नेफेड) को मंगलवार से 50 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव पर टमाटर की बिक्री करने का निर्देश दिया है. जुलाई के महीने से एनसीसीएफ और नैफेड टमाटर की घरेलू उपलब्धता बढ़ाने और कीमत में आई तेजी को नियंत्रित करने के लिए दिल्ली-एनसीआर, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और बिहार में उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय की ओर से रियायती दर पर टमाटर बेच रही हैं.

50 रुपये किलो मिलेगा टमाटर

मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, शुरुआत में उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने दोनों सहकारी समितियों को 90 रुपये प्रति किलोग्राम की रियायती दर पर टमाटर बेचने के लिए कहा था. बाद में इसकी कीमत घटाकर 80 रुपये प्रति किलोग्राम कर दी गई थी. बाद में इसे और घटाकर 70 रुपये प्रति किलोग्राम कर दिया गया. मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि टमाटर के दाम में ताजा कटौती के बाद अब उपभोक्ताओं को 50 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव पर टमाटर मिलेगा.

इन जगहों पर सस्ता मिल रहा टमाटर

रिपोर्ट में कहा गया है कि अब तक दोनों सहकारी समितियों की ओर से कुल 15 लाख किलोग्राम टमाटर की खरीद की जा चुकी है, जिसे देश के प्रमुख उपभोग केंद्रों में खुदरा उपभोक्ताओं को बेचा जा रहा है. इन स्थानों में दिल्ली-एनसीआर, राजस्थान (जयपुर, कोटा), उत्तर प्रदेश (लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, प्रयागराज) और बिहार (पटना, मुजफ्फरपुर, आरा, बक्सर) शामिल हैं.

मोबाइल वैन से टमाटरों की हो रही सप्लाई

पिछले कुछ दिनों में भारतीय राष्ट्रीय सहकारी उपभोक्ता संघ (एनसीसीएफ) ने पूरी दिल्ली में 70 स्थानों और नोएडा और ग्रेटर नोएडा में 15 स्थानों पर अपनी मोबाइल वैन तैनात करके खुदरा उपभोक्ताओं को टमाटर की आपूर्ति में काफी वृद्धि की है. इसके अलावा, एनसीसीएफ ओपन नेटवर्क फॉर डिजिटल कॉमर्स (ओएनडीसी) मंच के माध्यम से टमाटर की खुदरा बिक्री कर रहा है.

इन राज्यों से टमाटर की हो रही खरीद

एनसीसीएफ और भारतीय कृषि सहकारिता विपणन महासंघ लिमिटेड (नैफेड) आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और महाराष्ट्र की मंडियों से टमाटर खरीद रहे हैं. यह टमाटर उन क्षेत्रों में भेजा जा रहा है, जहां पिछले एक महीने में टमाटर की कीमतों में बेतहाशा बढ़ोतरी दर्ज की गई है. मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, टमाटर की अखिल भारतीय औसत कीमत 14 जुलाई को 9,671 रुपये प्रति क्विंटल से घटकर सोमवार में 9,195 रुपये प्रति क्विंटल रह गई है. प्रमुख उत्पादक केंद्रों में भारी बारिश के कारण टमाटर की कीमतें दबाव में आ गई हैं, जिसके चलते आपूर्ति संबंधी समस्याएं पैदा हो गई हैं.

पीएम मोदी ने महंगाई कम करने का किया ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (पीएम मोदी) ने मंगलवार को 77वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले के प्राचीर से महंगाई कम करने का ऐलान किया है. पीएम मोदी ने अपने भाषण के दौरान कहा कि उनके नेतृत्व में केंद्र सरकार ने महंगाई को नियंत्रित करने के लिए ‘भरसक प्रयास’ किए हैं और जनता के इस बोझ को कम से कम करने के लिए आने वाले दिनों में भी प्रयास जारी रहेगा.

पूरी दुनिया को महंगाई ने जकड़ा

भारत के 77वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज पूरी दुनिया महंगाई के संकट से जूझ रही है और पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था को महंगाई ने दबोच कर रखा है. उन्होंने कहा कि हम भी दुनिया से जिन सामानों की जरूरत होती है, उसे लाते हैं. हम सामान तो आयात करते ही हैं, साथ ही महंगाई भी आयात करते हैं. पूरी दुनिया को महंगाई ने जकड़ कर रखा है.

भारत ने महंगाई नियंत्रित करने के किए प्रयास

पीएम मोदी कहा कि भारत ने महंगाई को नियंत्रित रखने के लिए भरसक प्रयास किए हैं. पिछले कालखंड की तुलना में हमें कुछ सफलता भी मिली है, लेकिन इतने से संतोष नहीं. दुनिया से हमारी चीजें अच्छी हैं, बस यही सोचकर हम नहीं रह सकते. मुझे तो मेरे देशवासियों पर महंगाई का बोझ कम से कम हो. इस दिशा में और भी कदम उठाने हैं. हम उन कदमों को उठाते रहेंगे, मेरा प्रयास निरंतर जारी रहेगा.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.