केंद्र सरकार की बड़ी पहल, मजदूरों के लिए विशेष पहचान पत्र होगा अनिवार्य

22
lab1
विशिष्ठ पहचान पत्र

विशिष्ठ पहचान पत्र होगा अनिवार्य

केंद्र सरकार के द्वारा गरीब और मजदूरों के कल्याण के लिए कई योजनाएं चलायी जा रही है. उत्तराखंड में हुए सुरंग हादसे के बाद, केंद्र सरकार ने प्रवासी मजदूरों के अधिकारों की रक्षा और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए विशिष्ठ पहचान पत्र बनाने को अनिवार्य कर दिया है.

विशिष्ठ पहचान पत्र

आधार से जुड़ेगा पहचान पत्र

केंद्र सरकार के द्वारा बनाया जा रहा ये पहचान पत्र से आधार कार्ड जुड़ा हुआ होगा. इसकी पूरी जानकारी, ई-श्रम डेटाबेस में भी अपडेट किया जाएगा. श्रम सचिव आरती आहूजा ने इसके बारे में पूरी जानकारी अखिल भारतीय नियोक्ता संगठन (AII) और फिक्की के एक कार्यक्रम में दिया.

lab3
विशिष्ठ पहचान पत्र

ठेकेदार देंगे लाभ

आरती आहूजा ने बताया कि अपंजीकृत मजदूरों से काम कराने से पैदा हो रही चुनौतियों से निपटने में मदद मिलेगी. ठेकेदारों को भी अंतरराज्यीय प्रवासी कामगार अधिनियम के प्रावधानों के अनुरूप श्रमिकों को व्यापक लाभ देना होगा.

विशिष्ठ पहचान पत्र

ई-श्रम कार्ड

देश के असंगठित कार्यबल को एक साथ लाने के लिए ई-श्रम पोर्टल लॉन्च किया गया है. इस योजना के तहत सरकार श्रमिकों को नकद सहायता प्रदान करती है. सरकार सीधे कर्मचारियों के बैंक खातों में वित्तीय सहायता जमा करती है. श्रमिक मुआवजे का लाभ अतिरिक्त रूप से प्रदान किया जाता है.

lab6
विशिष्ठ पहचान पत्र

दो लाख का मिलेगा बीमा

ई-श्रम पोर्टल की स्थापना सभी किसानों और मजदूरों को एक ही मंच पर सरकारी योजनाओं तक पहुंच प्रदान करने के इरादे से की गई थी. सरकार इस योजना के तहत दुर्घटना बीमा में 2 लाख रुपये प्रदान करती है. इसके अतिरिक्त, कुछ श्रमिकों को किस्त भुगतान के रूप में वित्तीय सहायता प्राप्त होती है.

विशिष्ठ पहचान पत्र

क्या चाहिए दस्तावेज

ई-श्रम कार्ड के लिए पंजीकरण करने के लिए आपको आधार कार्ड, पासपोर्ट आकार का फोटो, आय प्रमाण पत्र, बैंक पासबुक आदि जैसे दस्तावेजों की आवश्यकता होगी.

Also Read..

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.