पंजाब में गैंगस्टर जरनैल सिंह की हत्या, हमलावरों ने ताबड़तोड़ 20-25 गोली मारकर किया छलनी

10

अमृतसर/नई दिल्ली : पंजाब के गैंगस्टर जरनैल सिंह की अमृतसर के सठियाला गांव गोली मारकर हत्या कर दी गई है. हमलावरों ने गैंगस्टर जरनैल सिंह पर करीब 20-25 गोलियां दागकर उसके शरीर को छलनी कर दिया. बताया जा रहा है कि उस पर कुछ लोगों ने ताबड़तोड़ गोलियां चलाई हैं. हमले के बाद जरनैल सिंह को पास के ही अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. इस घटना के बाद स्थानीय पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

हत्यारों की हो गई है पहचान, जल्द होगी गिरफ्तारी : एसएसपी

उधर, अमृतसर ग्रामीण के एसएसपी सतिंदर सिंह ने मीडिया को बताया कि सठियाला गांव में आज चार लोगों ने जरनैल सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी. दोषियों की पहचान कर ली गई है और जल्द ही उनकी गिरफ्तारी की जाएगी. उसके खिलाफ हत्या के प्रयास और आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज सहित चार प्राथमिकी दर्ज हैं.

घनश्यामपुरिया गैंग पर लगाया जा रहा आरोप

मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, गैंगस्टर जरनैल सिंह पर हमले का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है, जिसमें कुछ नकाबपोश हमलावर उस पर गोलियां बरसा रहे हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि गैंगस्टर जरनैल सिंह की हत्या का आरोप गैंगस्टर गोपी घनश्यामपुरिया पर लगाया जा रहा है. बताया यह भी जा रहा है कि घनश्यामपुरिया गैंग के लोगों ने जरनैल सिंह पर हमला करके उसकी हत्या की है.

पिछले साल सिद्धू मूसेवाला की हुई थी हत्या

बता दें कि 29 मई 2022 को पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की भी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. उन्हें भी सरेआम गोलियों से भून दिया गया था. पंजाबी सिंगर मूसेवाला की हत्या के पीछे गोल्डी बराड़ का हाथ बताया जा रहा है. बताया यह भी जा रहा है कि गोल्डी बराड़ ने लॉरेंस बिश्नोई के साथ मिलकर सिद्धू मूसेवाला की हत्या की योजना बनाई थी. इसके बाद शूटरों के हाथों उसने मूसेवाला की हत्या कराई थी.

पंजाब में अपराधियों के आठ गैंग सक्रिय

खबर है कि पंजाब में बदमाशों के करीब आठ गैंग सक्रिय है. इनमें लॉरेंस बिश्नोई गैंग, जग्गू भगवानपुरिया गैंग, गोंडर एंड ब्रदर्स गैंग, दवेंदर बंबीहा गैंग, सुक्खा काहलो गैं, गुरुबख्श सेवेवाला गैंग, शेरा खुब्बन गैंग और सुप्रीत सिंह हैरी छुट्टा गैंग शामिल है. मीडिया की रिपोर्ट की मानें, तो हाल के वर्षों में पंजाब में जितने भी गैंगवार हुए हैं, उनमें बदमाशों के इन्हीं गैंगों और इनके गूर्गों का हाथ बताया जा रहा है.

बताया यह भी जा रहा है कि इन गैंगों के ज्यादातर सरगना या मार दिए गए या फिर वे जेल के अंदर हैं. हालांकि, जेल में भी उनका गैंग वैसे ही अपना सिंडिकेट चलाता है, जैसे जेल से बाहर रहकर चलाया करता था. लॉरेंस बिश्नोई इसका एक ताजा उदाहरण बताया जा रहा है. पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्या मामले लॉरेंस बिश्नोई से पूछताछ जारी है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.