G-20 Summit: दिल्ली में हवाई अड्डे से लुटियंस तक ‘नो एंट्री’..! ट्रैफिक पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

21

G-20 Summit: जी20 बैठक के दौरान दिल्ली में यातायात व्यवस्था में बदलाव किया गया है. विशेष आयुक्त एसएस यादव ने बताया कि हवाई अड्डे से लुटियंस दिल्ली आने वाले लोगों को उनके पहचान पत्र के सत्यापन के बाद ही प्रवेश की अनुमति दी जाएगी. दिल्ली पुलिस ने कहा है कि शिखर सम्मेलन के मुख्य स्थल लुटियंस दिल्ली में बसों की आवाजाही प्रतिबंधित रहेगी. असुविधा ने हो इसके लिए दिल्ली पुलिस ने लोगों को मेट्रो का इस्तेमाल करने की सलाह दी है. सम्मेलन को लेकर अंतरराज्यीय बसों को दिल्ली में प्रवेश की अनुमति होगी साथ ही आईएसबीटी यात्रा का अंतिम पड़ाव नहीं होगा. जी20 शिखर सम्मेलन के दौरान अनुमति के साथ आवश्यक सामान ले जाने वाले वाहनों को छोड़कर अन्य मालवाहक वाहनों के दिल्ली में प्रवेश पर प्रतिबंध होगा.

नौ और 10 सितंबर 2023 को G-20 शिखर सम्मेलन का आयोजन

गौरतलब है कि देश की राजधानी दिल्ली में नौ और 10 सितंबर 2023 को G-20 शिखर सम्मेलन हो रहा है. हालांकि, आठ सितंबर से ही कई देशों के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, विदेश मंत्री और दूसरे मेहमान नई दिल्ली में पहुंचने लगेंगे. ऐसे में दिल्ली पुलिस ने ट्रैफिक को लेकर एडवाइजरी जारी की है. बता दें, G20 को अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन भी शामिल हो रहे हैं. इधर, सम्मेलन के दौरान सुरक्षा के लिहाज से दिल्ली के कई सरकारी और प्राइवेट संस्थानों को बंद रखने का आदेश दिया गया है. सरकार ने कहा है कि सभी को गाइडलाइन का पालन करना होगा.

8 से 10 सितंबर तक बंद रहेंगे कई कार्यालय
सरकार की ओर से जारी एडवाइजरी में कहा गया है कि केंद्र सरकार के सभी कार्यालय 8 से 10 सितंबर तक बंद रहेंगे. साथ ही वृहद पैमाने पर आयोजन और इंतजाम को देखते हुए दिल्ली में सभी निजी और सरकारी कार्यालय 8 से 10 सितंबर तक बंद रहेंगे. वहीं नयी दिल्ली जिले में बैंक और व्यावसायिक प्रतिष्ठान भी इन तीन दिन बंद रहेंगे. इसको लेकर दिल्ली सचिवालय ने नोटिफिकेशन जारी किया है. स्कूल भी बंद रहेंगे.

जारी रहेगी दिल्ली पुलिस ऑनलाइन हेल्प डेस्क और एम्बुलेंस सहायता
जी 20 शिखर सम्मेलन को लेकर दिल्ली पुलिस ने कहा कि विस्तृत यातायात व्यवस्था को लेकर अपने वेबसाइट के माध्यम से एक ऑनलाइन हेल्प डेस्क शुरु कर रही है. विशेष पुलिस आयुक्त (यातायात) सुरेंद्र सिंह यादव ने कहा यह देश के लिए गर्व की बात है कि हम इस शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर रहे हैं. हमारे लिए भी यह गर्व की बात है कि हम राष्ट्राध्यक्षों और अन्य गणमान्य व्यक्तियों के लिए पुलिस और यातायात सेवाएं प्रदान कर रहे हैं. उन्होंने कहा, हम इसे एक चुनौती के रूप में लेते हैं. हमने विस्तृत व्यवस्था की है और एक विस्तृत यातायात परामर्श तैयार किया गया है और इसे जल्द ही जारी किया जाएगा.

गौरतलब है कि भारत जी-20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर रहा है और मुख्य कार्यक्रम 9 और 10 सितंबर को दिल्ली में होगा. शिखर सम्मेलन में 29 देशों के प्रमुखों के साथ-साथ यूरोपीय संघ के शीर्ष अधिकारी भी शिरकत करेंगे. इसके अलावा आमंत्रित अतिथि देशों और 14 अंतरराष्ट्रीय संगठनों के प्रमुखों के भी इसमें भाग लेने की संभावना है. यादव ने बताया कि दिल्ली पुलिस अपनी वेबसाइट के माध्यम से एक ऑनलाइन हेल्प डेस्क शुरू करेगी. इसका मकसद इस बारे में पहले से विस्तृत जानकारी देना है कि प्रतिबंध कहां लगे हैं ताकि लोग इसके मुताबिक अपनी यात्रा की योजना बना सकें. विशेष आयुक्त ने कहा कि परामर्श को मैप माई इंडिया, गूगल मैप्स और अन्य सेवाओं के साथ भी साझा किया जाएगा ताकि वे उस दौरान इसे अपनी सेवाओं के साथ जोड़ कर सकें.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.