G-20: कनाडा के पीएम के विमान में आई तकनीकी खराबी, भारत में ही रुका कनाडाई प्रतिनिधिमंडल

4

G-20 Summit: कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के विशेष विमान में तकनीकी खराबी आ गई है. जिसके कारण वो आज अपने देश नहीं जा पाएंगे. दरअसल, विमान में तकनीकी खराबी आ जाने के कारण उड़ान स्थगित कर दी गई. हवाई अड्डे के अधिकारी ने एएनआई को बताया कि कनाडाई प्रतिनिधिमंडल तब तक भारत में रहेगा जब तक कि जमीन पर इंजीनियरिंग टीम समस्या को ठीक नहीं कर लेती. गौरतलब है कि उन्होंने जी20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के बाद अपने देश लौटने के लिए उड़ाया था लेकिन तकनीकी खराबी आ जाने के कारण विमान को वापस लौटा लिया गया. एएनआई की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अचानक आई तकनीकी खराबी के कारण पीएम और पूरे प्रतिनिधिमंडल को तब तक इंतजार करना पड़ा जब तक इंजीनियरिंग टीम ने उन्हें उड़ान भरने की अनुमति नहीं दे दी.

आज रवाना होने वाले थे कनाडा
एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली में हवाई अड्डे के सूत्रों ने कहा कि कनाडा के पीएम के विशेष विमान में तकनीकी खराबी आ गई. बता दें, कनाडाई पीएम ट्रूडो और उनके पूरे प्रतिनिधिमंडल ने भारत में जी 20 शिखर सम्मेलन में भाग लिया और दो दिवसीय यात्रा के बाद वापस कनाडा जाने के लिए तैयार थे, लेकिन एक तकनीकी खराबी के कारण उन्हें दिल्ली में ही रुकना पड़ा. बताया जा रहा है कि जस्टिन ट्रूडो और उनका प्रतिनिधिमंडल आज रात दिल्ली में ही रुक सकते हैं. बता दें, दो दिनों चले जी 20 शिखर सम्मेलन की समाप्ति के बाद आज ट्रूडो कनाडा रवाना होने वाले थे.

गौरतलब है कि इससे पहले पीएम मोदी और कनाडा के प्रधानमंत्री ट्रूडो के बीच आज यानी रविवार को द्विपक्षीय बातचीत हुई थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को जी 20 शिखर सम्मेलन से इतर कनाडा के अपने समकक्ष जस्टिन ट्रूडो से मुलाकात की और विभिन्न क्षेत्रों में भारत-कनाडा संबंधों की पूरी श्रृंखला पर चर्चा की. मोदी ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा कि जी20 शिखर सम्मेलन से इतर प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो से मुलाकात की. हमने विभिन्न क्षेत्रों में भारत-कनाडा संबंधों की पूरी श्रृंखला पर चर्चा की.

बैठक में पीएम मोदी ने ट्रुडो को कनाडा में बढ़ रहे खालिस्तानी समर्थकों की संख्या को लेकर भारत की चिंता से अवगत कराया. पीएम मोदी ने कहा कि ये भारत में अलगाववाद को बढ़ावा दे रहे हैं. साथ ही राजनयिकों के खिलाफ भी हिंसा भड़का रहे हैं और वहां भारतीय समुदाय को धमकी दे रहे हैं. विदेश मंत्रालय ने कहा कि जी20 शिखर सम्मेलन से इतर ट्रूडो के साथ बातचीत में मोदी ने यह भी उल्लेख किया कि भारत-कनाडा संबंधों की प्रगति के लिए परस्पर सम्मान और विश्वास पर आधारित संबंध आवश्यक है. मंत्रालय ने कहा, प्रधानमंत्री ने इस बात पर प्रकाश डाला कि भारत-कनाडा संबंध साझा लोकतांत्रिक मूल्यों, कानून के शासन के प्रति सम्मान और दोनों देशों की जनता के बीच मजबूत संबंधों पर आधारित हैं.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.