फॉक्सकॉन ने वेदांता से तोड़ी डील, क्या भारत के सेमीकंडक्टर लक्ष्य पर पड़ेगा असर? केंद्र ने दिया ऐसा जवाब

53

इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण करने वाली कंपनी होन हाई टेक्नोलॉजी ग्रुप (फॉक्सकॉन) ने भारत के वेदांता को तगड़ा झटका दिया है. उसने सेमीकंडक्टर संयुक्त उपक्रम से हटने का फैसला किया है. डील कैंसिल होने की खबर पर केंद्र सरकार का भी बयान सामने आया है. जिसमें सरकार ने कहा, डील खत्म होने से भारत के सेमीकंडक्टर लक्ष्य पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

फॉक्सकॉन ने कहा, सेमीकंडक्टर उद्यम से कंपनी को कोई संबंध नहीं

फॉक्सकॉन ने कहा कि वह सेमीकंडक्टर उद्यम से फॉक्सकॉन का नाम हटाने का प्रयास कर रही है. कंपनी ने कहा, फॉक्सकॉन का इस इकाई के साथ कोई संबंध नहीं है. मूल नाम बनाए रखने से भविष्य के अंशधारकों के लिए असमंसज की स्थिति पैदा होगी.

फॉक्सकॉन की घोषणा का भारत के सेमीकंडक्टर लक्ष्य पर असर नहींः चंद्रशेखर

इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने सेमीकंडक्टर विनिर्माण के संयुक्त उद्यम से फॉक्सकॉन के अलग होने की घोषणा पर सोमवार को कहा कि इसका देश में चिप बनाने के लक्ष्य पर कोई असर नहीं पड़ेगा. इधर केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने ट्वीट किया और कहा, फॉक्सकॉन और वेदांता दोनों कंपनियां भारत के सेमीकंडक्टर मिशन और मेक इन इंडिया कार्यक्रम के लिए प्रतिबद्ध हैं.

दोनों ही कंपनियों के पास सेमीकंडक्टर का अनुभव या प्रौद्योगिकी नहीं थी : चंद्रशेखर

चंद्रशेखर ने फॉक्सकॉन के ऐलान पर एक ट्वीट में अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा, उन्होंने कहा, यह बात अच्छी तरह पता थी कि दोनों ही कंपनियों के पास पहले से सेमीकंडक्टर का अनुभव या प्रौद्योगिकी नहीं थी. उनसे यह विनिर्माण प्रौद्योगिकी किसी प्रौद्योगिकी साझेदार से लेने की उम्मीद थी. उनके संयुक्त उद्यम ने 28 एनएम चिप के लिए प्रस्ताव दिया था लेकिन वे उसके लिए समुचित प्रौद्योगिकी साझेदार नहीं खोज पाए.

सेमीकंडक्टर संयंत्र के लिये अन्य संभावित भागीदारों के संपर्क में: वेदांता

चिप विनिर्माण उद्यम में साझेदार फॉक्सकॉन के अलग होने की घोषणा के बाद वेदांता ने सोमवार को कहा कि वह सेमीकंडक्टर विनिर्माण संयंत्र लगाने के लिये संभावित भागीदारों के संपर्क में है.

वेदांता और फॉक्सकॉन को गुजरात में 1.5 लाख करोड़ की लागत से लगाना था मीकंडक्टर विनिर्माण संयंत्र

गौरतलब है कि ताइवान की इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी फॉक्सकॉन ने वेदांता के साथ संयुक्त उद्यम से खुद को अलग करने की घोषणा की है. इस उद्यम को गुजरात में 1.5 लाख करोड़ रुपये के निवेश से सेमीकंडक्टर विनिर्माण संयंत्र लगाना था.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.