Deendayal Birth Anniversary: गरीबों के उत्थान के लिए सरकार द्वारा चलाई जा रही पांच बड़ी योजनाएं, जानें डिटेल्स

5

पंडित दीनदयाल उपाध्याय की आज 108वीं जयंती है. इसको लेकर देशभर में कई कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है. पंडित दीनदयाल राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के चिंतक और संगठकर्ता थे. वो 1967 से 68 तक भारतीय जनसंघ के अध्यक्ष भी रहे. पंडित दीनदयान के जन्मदिन को अंत्योदय दिवस के रूप में भी मनाया जाता है. भारत सरकार ने गरीबों के कल्याण के लिए कई योजनाएं चला रही है. जिसमें अंत्योदय योजना भी शामिल है. तो आइये पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के मौके पर हम आपको यहां बताने वाले हैं कि भारत सरकार की ओर से गरीबों के उत्थान के लिए कौन-कौन योजनाएं चलायी जा रही हैं.

प्रधानमंत्री अंत्योदय अन्न योजना

प्रधानमंत्री अंत्योदय अन्न योजना केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है. इस योजना के माध्यम से सरकार गरीबों को भोजन उपलब्ध करा रही है. हर अंत्योदय राशन कार्ड वालों को इस योजना के माध्यम से 35 किलोग्राम राशन प्रदान किया जा रहा है. इसके अलावा 2 रुपये प्रति किलोग्राम गेहूं भी दिया जा रहा है. इस योजना की शुरुआत 25 दिसंबर 2000 को की गई.

दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना

भारत सरकार ने शहरी और ग्रामीण गरीबों के लिए दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना का आरंभ 25 सितंबर 2014 को किया. भारत सरकार ने इस योजना के लिए 500 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है. इस योजना के अंतर्गत देश के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रो के सड़क विक्रेताओं की आजीविका संबंधी समस्याओं को देखते हुए उनकी उभरते बाजार के अवसरों तक पहुंच को सुनिश्चित करने के लिए उपयुक्त जगह, संस्थागत ऋण, और सामाजिक सुरक्षा और कौशल विकास प्रदान करना.

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत 25 सितंबर, 2018 को की गई थी. इसे एक साथ पूरे देशभर में लागू किया गया है. इस योजना में गरीबों का इलाज फ्री में कराने का प्रावधान है. इसमें कई बीमारियों का इलाज फ्री में किया जायेगा. इस योजना में सरकार द्वारा 5 लाख तक इलाज के लिए हॉस्पिटल को देने का प्रावधान है.

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की शुरुआत 1 मई 2016 को हुई. इस योजना का उद्देश्य गरीब परिवार की महिलाओं को फ्री में घरेलू एलपीजी गैस कनेक्शन दिया जा रहा है. इसके अलावा इस योजना के लाभर्थियों को सामान्य रेट से 200 रुपये कम में गैस सिलेंडर भी दिया जा रहा है. इस योजना के आने से महिलाओं के स्वास्थ्य पर भी सुधार आई है. लड़की से खाना बनाने में महिलाओं को आंख और फेफड़े में कई तरह की परेशानिएं हो रहीं थीं.

प्रधानमंत्री आवास योजना

प्रधानमंत्री आवास योजना की शुरुआत 25 जून 2015 को की गई थी. इस योजना का उद्देश्य देश के सभी गरीबों को पक्का मकान दिलाना है. इस योजना को दो भाग में बांटा गया है. एक शहरी और दूसरा ग्रामीण.

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना

सड़क पर ठेले-खोमचे चलाने वालों को खुद का काम शुरू करने के लिए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना की शुरुआत की. योजना में 10000 रुपये तक का ऋण देने का प्रावधान है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.