बॉलीवुड में महिला एक्टर्स पुरुष कलाकारों की तुलना में कहीं बेहतर एक्टिंग करती हैं, ऐसा क्यों कहा मानव कौल ने

57

थिएटर, फ़िल्में और वेब सीरीज अभिनय के तीनों माध्यमों में अभिनेता मानव कौल लगातार सक्रिय हैं. इनदिनों वह जिओ सिनेमा में स्ट्रीम हो रही फिल्म ट्रायल पीरियड में नजर आ रहे हैं. वह इस फिल्म में एक अलग ही अंदाज में नज़र आ रहे हैं. इस फिल्म में प्रजापति द्विवेदी की वह भूमिका में है. मानव बताते हैं कि इस किरदार के लिए वह निर्देशक अलेया सेन की पहली पसंद थे. यह बात उन्हें बहुत ख़ुशी देती हैं कि मुझ पर लोगों का भरोसा बढ़ता जा रहा हैं. अपने कंधों पर फिल्म को ले जाना बहुत खास होता है. मैं इसके लिए इस फिल्म के मेकर्स का बहुत शुक्रगुज़ार हूं.

किरदार में नयापन ढूंढता हूं

अपने अब तक के अभिनय करियर में मानव कई भूमिकाओं के वाहवाही बटोर चुके हैं. एक एक्टर के तौर पर स्क्रिप्ट में उन्हें सबसे ज़्यादा क्या अपील करता हैं. इस पर बातचीत करते हुए मानव बताते हैं, जब मैं किसी नई फिल्म से जुड़ता हूं तो बहुत उत्साहित होता हूं. उस फिल्म के निर्देशक से पहली मुलाकात के दौरान मैं वही उत्साह खोजने की कोशिश की. मैंने ट्रायल पीरियड की अलेया में चार गुना अधिक उत्साह देखा. मैं बार-बार डायरेक्टर से मिलता हूं और उनका रवैया समझने की कोशिश करता हूं.’ क्योंकि हम कलाकार आखिरकार निर्देशकों के अनुसार ही परफॉर्म करते हैं. इसके साथ ही मुझे किरदार के साथ खेलना पसंद है. किरदार के माध्यम से आश्चर्यचकित करना पसंद है. अगर आप किरदार के साथ कुछ नया नहीं कर सकते तो मुझे फिल्म करने का कोई मतलब नहीं दिखता.

उम्दा कलाकारों का मिला साथ

‘ट्रायल पीरियड’ फिल्म में जेनेलिया के साथ मानव की जोड़ी बनी है. एक अरसे बाद जेनेलिया ने अभिनय में वापसी की है. जेनेलिया के साथ काम करने के बारे में बात करते हुए मानव ने कहा, ‘वह ऑफ स्क्रीन भी वैसी ही हैं जैसी आप जेनेलिया को ऑन स्क्रीन देखते हैं. दो-तीन दिन में ही वह अच्छे दोस्त बन गये. और ऐसा लग रहा था कि जेनेलिया मुझे काफी समय से जानती हैं. हम एक्टिंग से ज़्यादा किताबों पर बात करते थे. जेनेलिया के साथ वह बाल कलाकार जिदान की तारीफ करना नहीं भूलते हैं. वह बताते हैं कि आमतौर पर मैं बहुत ज़्यादा बच्चों से घुल मिल नहीं पाता हूं, लेकिन ये बच्चा अलग था. सेट पर हमारी बहुत ही खास बॉन्डिंग बन गयी थी. हम ऑफ़ स्क्रीन भी साथ में समय बिताना पसंद करते थे. फिल्म में गजराज राव के साथ भी मानव के कई दृश्य हैं. गजराज का साथ वह थिएटर के दिनों का बताते हैं. उनकी कई सालों की दोस्ती हैं,तो ट्रायल पीरियड के सेट पर काफी उम्दा कलाकारों का साथ मिला. कई बार तो गजराज का परफॉरमेंस मुझे चकित कर देता था. फिल्म में एक इमोशनल सीन उनके साथ, वो करने के बाद तो मैं उनका और मुरीद बन गया.

एक्टर्स के मुकाबले एक्ट्रेसेज हैं बेहतर

अपने अब तक के करियर में मानव कौल ने ऑन स्क्रीन कई दिगज्ज अभिनेत्रियों के साथ काम किया हैं. फिल्म तुम्हारी सुलु में उन्हें विद्या बालन का साथ मिला था, तो फेम गेम में माधुरी दीक्षित के साथ वह नजर आएं हैं. इन दिग्गज अभिनेत्रियों के साथ अपने काम के अनुभव को बेहतरीन करार देते हुए मानव यह बात भी कह जाते हैं कि हमारे देश की महिला कलाकार पुरुष कलाकारों की तुलना में कहीं बेहतर एक्टिंग करती हैं. आप टॉप टेन पुरुष और महिला कलाकारों की लिस्ट पर एक नज़र डालें. आप देखेंगे कि लड़कियां एक्टिंग के मामले में बहुत आगे हैं. मैं बहुत भाग्यशाली हूं कि मुझे ऐसी अद्भुत अभिनेत्रियों के साथ काम करने का अवसर मिला. यह एक शानदार अनुभव रहा है।जिसे मैं हमेशा बहुत खास करार दूंगा.

जरुरत से ज्यादा मिला है

मानव कौल इंडस्ट्री में 2003 से सक्रिय हैं, जब उनकी पहली फिल्म जजनतरम ममनतरम आयी थी. दो दशक के अपने फ़िल्मी कैरियर से क्या कोई अफ़सोस भी जुड़ा हैं. इस पर अभिनेता दो टूक में जवाब देते हुए कहते हैं कि कैसा अफसोस? मैं बहुत खुश हूं. मुझे लगता है कि मुझे जो मिला वह बहुत कुछ है. आप कह सकते हैं कि मुझे ज़रूरत से ज़्यादा मिल गया. और मुझे कोई पछतावा नहीं है. मुझे काम करना पसंद है एक्टिंग के अलावा, मुझे लिखना, किताबें पढ़ना और यात्रा करना पसंद है. ये सब मैं साथ में बैलेंस करता हूं.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.