Farmers Protest violence किसान की मौत से गुस्से में किसान नेता

6

farmer protest today

Farmers Protest: किसान आंदोलन पर पूरे देश की नजर बनी हुई है. इस बीच संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने पंजाब-हरियाणा सीमा पर एक प्रदर्शनकारी किसान की मौत पर नाराजगी जताई है और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और गृहमंत्री अनिल विज के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग की है. किसान नेताओं ने अगले सप्ताह ट्रैक्टर मार्च निकालने का ऐलान किया है. इस बीच किसान नेता सरवन सिंह पंढ़ेर का बयान सामने आया है. उन्होंने कहा है कि शुभकरण सिंह को लेकर पंजाब सरकार के साथ हमारी बातचीत चल रही है.

क्या कहा किसान नेता सरवन सिंह पंढ़ेर ने

मृतक किसान शुभकरण सिंह को लेकर किसान नेता सरवन सिंह पंढ़ेर ने कहा है कि शुभकरण की मौत के बाद पंजाब सरकार से बातचीत चल रही थी. हमारी सभी मांगें मान ली गईं. उन्होंने मांग की है कि हमला करने वालों के खिलाफ धारा 302 (हत्या) के तहत मामला दर्ज किया जाए. यही नहीं पंजाब सरकार शुभकरण सिंह को ‘शहीद’ का दर्जा दे. आगे पंढ़ेर ने कहा कि शुभकरण सिंह के परिवार से मुआवज़े पर चर्चा हुई. उनके पोस्टमॉर्टम के लिए बोर्ड गठित किया जाएगा और उसकी वीडियोग्राफी कराई जाएगी.

Farmers Protest : कौन है 21 वर्षीय शुभकरण सिंह? किसानों का दावा- पुलिस के साथ झड़प में गई जान

शहीदों की शहादत का अपमान कर रही है पंजाब सरकार

किसान नेता सरवन सिंह पंढ़ेर ने आगे कहा कि 14 घंटे से ज्यादा हो गए हैं लेकिन पंजाब सरकार कोई जवाब नहीं दे रही है. इसलिए शुभकरण सिंह का शव अस्पताल में पड़ा है. पंजाब सरकार हमारे शहीदों की शहादत का अपमान कर रही है, जिसकी हम निंदा करते हैं. वे कह रहे हैं कि घटना स्थल पर जाकर जांच करनी होगी…चाहे वह पंजाब या हरियाणा में स्थित हो. उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता कि हम अभी शुभकरण सिंह का अंतिम संस्कार कर पाएंगे. पंजाब सरकार के साथ बातचीत अभी पूरी नहीं हुई है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.