2000 रुपये का नोट डाकघरों से बदलवाने का न करें भूल, वर्ना पछताना पड़ेगा, जानें क्यों?

9

2019 से 2000 रुपये के नोट की छपाई बंद

भारतीय रिजर्व बैंक के अनुसार, 8 नवंबर 2016 को 500 और 1000 रुपये के नोटों को प्रचलन से बाहर किए जाने के बाद 2000 रुपये के नोटों को जारी करने का उद्देश्य पूरा होने के बाद वर्ष 2018-19 से इसकी छपाई बंद कर दी गई. मार्च 2017 से पहले 2000 रुपये मूल्यवर्ग के नोटों में से करीब 89 फीसदी जारी किए गए थे. आरबीआई के अनुसार, मार्च 2018 तक 6.73 लाख करोड़ रुपये मूल्य के 2000 रुपये के नोट बाजार में प्रचलित थे, जो 2023 में घटकर 3.62 लाख करोड़ रुपये हो गया, जो कुल नोटों का केवल 10.8 फीसदी है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.