Electoral Bond से जुड़े 8 अहम प्वाइंट, जानें किसको कितना मिला

4

Electoral Bond : भारत निर्वाचन आयोग ने रविवार को चुनावी बॉन्ड पर राजनीतिक दलों से मिला डाटा जारी कर दिया है. चुनाव आयोग द्वारा दिए गए आंकड़ों में यह जानकारी मिल रही है कि केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी को इस बॉन्ड के जरिए 6,986.5 करोड़ रुपए की राशि मिली है जो सबसे अधिक है. वहीं, फ्यूचर गेमिंग और होटल सर्विसेज ने सबसे अधिक 1368 करोड़ का बॉन्ड खरीदा था. यह खुलासा सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों पर चुनाव आयोग द्वारा सार्वजनिक किए गए कुल 523 मान्यता प्राप्त और गैर-मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों के डेटा डंप का हिस्सा है.

Electoral Bond : फ्यूचर गेमिंग ने DMK को दिए सबसे अधिक धन

एसबीआई की ओर से दी गई जानकारी के आधार पर पिछले सप्ताह ही चुनाव आयोग ने डाटा अपने वेबसाईट पर अपलोड किया था. ‘फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज’ ने चुनावी बॉन्ड के माध्यम से तमिलनाडु की सत्तारूढ़ पार्टी द्रमुक को 509 करोड़ रुपये का दान दिया था. DMK द्वारा बताए गए 656.5 करोड़ रुपये के चुनावी बॉण्ड से प्राप्त कुल प्राप्तियों में ‘फ्यूचर गेमिंग’ द्वारा दिया गया दान 77 प्रतिशत से अधिक है.

Electoral Bond
Electoral bond

Electoral Bond के जुड़े 8 अहम प्वाइंट्स

  • बीजेपी को 2018 में चुनावी बॉण्ड योजना के लागू होने के बाद से सबसे अधिक 6,986.5 करोड़ रुपये की धनराशि प्राप्त हुई. इसके बाद पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस (1,397 करोड़ रुपये), कांग्रेस (1,334 करोड़ रुपये) और भारत राष्ट्र समिति (1,322 करोड़ रुपये) का स्थान रहा.
  • आंकड़ों के मुताबिक, ओडिशा की सत्तारूढ़ पार्टी बीजद को 944.5 करोड़ रुपये मिले. इसके बाद द्रमुक ने 656.5 करोड़ रुपये और आंध्र प्रदेश की सत्तारूढ़ पार्टी वाईएसआर कांग्रेस ने लगभग 442.8 करोड़ रुपये के बॉण्ड भुनाए.
  • गैर सरकारी संगठन, ADR द्वारा संकलित एक पूर्व रिपोर्ट के अनुसार, मार्च 2018 से जनवरी 2024 तक 16,518 करोड़ रुपये के चुनावी बॉण्ड बेचे गए थे.
  • दोनों आंकड़ों को मिलाकर अनुमान लगाया गया है कि योजना की पूरी अवधि के दौरान भाजपा को कुल 7,700 करोड़ रुपये की राशि प्राप्त हुई है.
  • रविवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, जनता दल (सेक्युलर) को 89.75 करोड़ रुपये के बॉण्ड मिले, जिसमें चुनावी बॉण्ड की दूसरी सबसे बड़ी खरीदार मेघा इंजीनियरिंग से मिले 50 करोड़ रुपये भी शामिल हैं.
  • फ्यूचर गेमिंग कंपनी 1,368 करोड़ रुपयों के साथ चुनावी बॉण्ड की सबसे बड़ी खरीदार थी, जिसमें से लगभग 37 प्रतिशत द्रमुक को गया.
  • तेदेपा ने 181.35 करोड़ रुपये, शिवसेना ने 60.4 करोड़ रुपये, राजद ने 56 करोड़ रुपये, समाजवादी पार्टी ने चुनावी बॉण्ड के जरिए 14.05 करोड़ रुपये प्राप्त किए. आंकड़ों में कहा गया कि अकाली दल ने 7.26 करोड़ रुपये, अन्नाद्रमुक ने 6.05 करोड़ रुपये, नेशनल कॉन्फ्रेंस ने भारती ग्रुप से मिले 50 लाख रुपये के बॉण्ड भुनाए.
  • आम आदमी पार्टी ने हालांकि अपने दान का संचयी आंकड़ा नहीं दिया, लेकिन एसबीआई के आंकड़ों से पता चला कि उसे 65.45 करोड़ रुपये मिले थे, जबकि निर्वाचन आयोग में दी गई जानकारी के बाद उसे 3.55 करोड़ रुपये और मिलने का अनुमान है, जिससे कुल दान 69 करोड़ रुपये हो गया.

सोर्स : भाषा इनपुट

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.