Maharashtra Politics: एकनाथ शिंदे को इस्तीफा देने को कहा गया ? आदित्य ठाकरे के दावे से राजनीति गरम

11

Maharashtra Politics: महाराष्ट्र में जारी राजनीतिक घटनाक्रम पर लगातार बयानबाजी जारी है. इस बीच शिवसेना नेता (UBT) आदित्य ठाकरे ने ऐसा बयान दिया है जिससे राजनीति तेज हो गयी है. उन्होंने दावा किया है कि एकनाथ शिंदे का मुख्यमंत्री पद खतरे में है. महाराष्ट्र मंत्रिमंडल विस्तार से कुछ दिन पहले उद्धव ठाकरे के बेटे और पूर्व मंत्री आदित्य ठाकरे का यह बयान सामने आया है. उन्होंने कहा कि सीएम को शिंदे को इस्तीफा देने के लिए कहा गया है.

आगे आदित्य ठाकरे ने कहा कि इससे संकेत मिलता है कि अजित पवार और एनसीपी के आठ अन्य विधायकों के उनके एक साल पुराने राज्य मंत्रिमंडल में शामिल होने से सीएम की कुर्सी खतरे में पड़ सकती है. यहां चर्चा कर दें कि अजित पवार वर्तमान में शिंदे के नेतृत्व वाली सरकार में भाजपा के देवेंद्र फडणवीस के साथ उपमुख्यमंत्री का पद संभाल रहे हैं.

शिंदे को इस्तीफा देने के लिए कहा गया

आदित्य ठाकरे ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मैंने सुना है कि मुख्यमंत्री (एकनाथ शिंदे) को इस्तीफा देने के लिए कह दिया गया है. (सरकार में) कुछ बदलाव के संकेत मिल रहे हैं. आपको बता दें कि पिछले दिनों शिवसेना के एक वरिष्ठ नेता ने दावा किया था कि एनसीपी नेता अजित पवार के राज्य सरकार में शामिल होने के बाद से शिंदे के गुट के कुछ नेता नाराज है. करीब 20 विधायक उनकी पार्टी के संपर्क में हैं.

शिंदे गुट के 40 और उद्धव खेमे के 14 विधायकों को नोटिस

इस बीच महाराष्ट्र विधानसभा के अध्यक्ष राहुल नार्वेकर ने शनिवार को बताया कि मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाली शिवसेना के 40 विधायकों और उद्धव ठाकरे गुट के 14 विधायकों को नोटिस जारी किया गया है और उनसे उनके खिलाफ दायर अयोग्यता याचिकाओं पर जवाब मांगा गया है. यह घटनाक्रम ऐसे समय में हुआ है, जब नार्वेकर ने एक दिन पहले बयान दिया था कि उन्हें भारत निर्वाचन आयोग से शिवसेना के संविधान की एक प्रति प्राप्त हुई है. मुख्यमंत्री शिंदे सहित 16 शिवसेना विधायकों के खिलाफ अयोग्यता याचिकाओं पर सुनवाई जल्द शुरू होगी.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.