अरविंद केजरीवाल के निजी सचिव सहित ‘आप’ से जुड़े ठिकानों पर ईडी की छापेमारी, आतिशी ने ED पर लगाया बड़ा आरोप

9

दिल्ली में मंगलवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने छापेमारी की. जानकारी के अनुसार जांच एजेंसी ने मनी लॉन्ड्रिंग की जांच के तहत दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निजी सचिव बिभव कुमार और आम आदमी पार्टी (आप) से जुड़े कुछ लोगों के परिसरों की तलाशी ली है. सूत्रों के हवाले से जो मीडिया में खबर है उसके अनुसार, छापेमारी के तहत दिल्ली के करीब 10 परिसरों की तलाशी ईडी ने ली है. केंद्रीय जांच एजेंसी के अधिकारी, बिभव कुमार और दिल्ली जल बोर्ड के पूर्व सदस्य शलभ कुमार के अलावा कुछ अन्य लोगों के परिसरों की तलाशी लेने सुबह-सुबह पहुंचे.

आपको बता दें कि ईडी की यह छापेमारी ऐसे वक्त में की जा रही है, जब अरविंद केजरीवाल सरकार की मंत्री आतिशी ने मंगलवार सुबह 10 बजे ईडी पर विस्फोटक खुलासे का दावा किया था.

आरएसएस के बाद, बीजेपी को ईडी पर ज्यादा भरोसा

ईडी की इस छापेमारी पर राजनीतिक प्रतिक्रिया आने लगी है. मामले पर शिवसेना (यूबीटी) सांसद संजय राउत ने कहा कि ईडी बीजेपी की एक विस्तारित शाखा है. आरएसएस के बाद, बीजेपी को ईडी पर ज्यादा भरोसा रहने लगा है. महाराष्ट्र, झारखंड में किसने खेल खेला, यह ईडी ने किया है..बीजेपी के खिलाफ जो बोलेगा, ईडी उसके खिलाफ कार्रवाई करती नजर आएगी.

2 साल के छापे में ED को कुछ नहीं मिला : आतिशी

छापेमारी के बाद आम आदमी पार्टी की नेता आतिशी ने कहा कि 2 साल के छापे में ED को कुछ नहीं मिला. जांच एजेंसी लोगों का डरा रही है. लोगों को डराकर हमारे खिलाफ किया जा रहा है. आप नेता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके सुप्रीम कोर्ट के एक ऑर्डर कर जिक्र किया. उन्होंने कहा कि कोर्ट ने कहा है कि जांच सीसीटीवी की निगरानी में की जानी चाहिए. इसमें ऑडियो भी होना चाहिए.

ईडी ने गवाहों के बयानों की ऑडियो रिकॉर्डिंग ‘डिलीट’ की

दिल्ली की मंत्री आतिशी ने आरोप लगाया कि आम आदमी पार्टी के नेताओं पर ईडी की छापेमारी पार्टी को चुप कराने के लिए की जा रही है. प्रवर्तन निदेशालय शराब नीति मामले में ‘आप’ नेताओं के खिलाफ झूठे बयान देने के लिए लोगों को मजबूर कर रहा है, उन्हें धमकी दे रहा है. आतिशी ने कहा कि ईडी ने गवाहों के बयानों की ऑडियो रिकॉर्डिंग ‘डिलीट’ की.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.