अरब सागर में मर्चेंट शिप पर ड्रोन अटैक के बाद लगी आग, चालक दल में 21 भारतीय भी शामिल

4

भारत के पश्चिमी तट के पास अरब सागर में एक व्यापारिक जहाज पर शनिवार को संदिग्ध ड्रोन हमले के बाद धमाका हुआ. जहाज के चालक दल में 21 भारतीय शामिल थे लेकिन हमले में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है. भारतीय सैन्य सूत्रों ने कहा कि ‘यूनाइटेड किंगडम मैरीटाइम ट्रेड ऑपरेशंस’ (यूकेएमटीओ) द्वारा घटना की सूचना दिए जाने के बाद नौसेना के पी-8आई समुद्री गश्ती विमान को जहाज और उसके चालक दल की सुरक्षा के लिए तैनात किया गया.

मदद के लिए भारतीय तटरक्षक जहाज रवाना

मर्चेंट शिप एमवी केम प्लूटो पर ड्रोन अटैक की खबर मिलने के साथ ही गश्त पर तैनात भारतीय तटरक्षक जहाज आईसीजीएस विक्रम मदद के लिए रवाना हो चुकी है. रक्षा अधिकारियों ने बताया कि व्यापारी जहाज के शनिवार को पोरबंदर तट से 217 समुद्री मील दूर मौजूद होने की सूचना मिली थी. रक्षा अधिकारियों के मुताबिक, जहाज में कच्चा तेल है और यह सऊदी अरब के एक बंदरगाह से मैंगलोर की ओर जा रहा था. आग बुझा दी गई है.

भारतीय तट रक्षक एयरक्राफ्ट ने ड्रोन अटैक से प्रभावित जहाज से किया संपर्क

भारतीय तट रक्षक डोर्नियर समुद्री निगरानी विमान ने संकटग्रस्त जहाज एमवी केम प्लूटो के साथ संचार स्थापित किया है. ड्रोन हमले के बाद जहाज ने अपनी स्वचालित पहचान प्रणाली को बंद कर दिया था, जिसका उपयोग जहाज को ट्रैक करने के लिए किया जा सकता है. यह जानकारी भारतीय तटरक्षक अधिकारी ने दी.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.