‘तो क्या आसमान पर होती पेट्रोल की कीमत’, विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर ने कही ये बात

7

नई दिल्ली : विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर ने सोमवार को कहा कि भारत में मजबूत विदेश नीति न होती, तो पेट्रोल की कीमतें आसमान पर होतीं. दिल्ली में एनआईटी के छात्रों को मजबूत विदेश नीति के महत्व को रेखांकित करते हुए डॉ एस जयशंकर ने कहा कि अच्छी विदेश नीति के बिना पेट्रोल-डीजल और किरासन तेल की कीमत बहुत अधिक होगी. उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं, आपके द्वारा खरीदे जाने वाले आईफोन की कीमत भी बहुत अधिक होती.

यूक्रेन युद्ध के बाद रूस का पश्चिमी देशों से बिगड़े संबंध

यूक्रेन युद्ध के बीच भारत-रूस के संबंधों पर चर्चा करते हुए विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर ने कहा कि सरकार यह सुनिश्चित करना चाहती है कि भारतीयों के हितों की रक्षा हो और वह सर्वोपरि हो. उन्होंने कहा कि रूस का मुख्य आर्थिक साझेदार पश्चिमी देश थे. यूक्रेन संघर्ष के बाद वह रास्ता बंद हो गया. रूस एशिया की ओर रुख कर रहा है. यूक्रेन संघर्ष से पहले हमारा व्यापार करीब 12-14 अरब डॉलर था, जो पिछले यह बढ़कर 40 अरब डॉलर पर पहुंच गया. एशियाई अर्थव्यवस्था वैश्विक अर्थव्यवस्था का प्रमुख भागीदार बन रही है. मुझे लगता है कि हमें इस बारे में चिंतित नहीं होना चाहिए कि वे दूसरे देशों के साथ क्या कर रहे हैं. हमे अपने रिश्ते जारी रखने चाहिए.

रिसर्च, विकास और तकनीक के बिना विकास संभव नहीं

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने आगे कहा कि कोई भी देश अनुसंधान एवं विकास और प्रौद्योगिकी को अपनाए बिना प्रगति नहीं कर सकता. मोदी सरकार के नौ वर्ष पूरे होने के अवसर पर शुरू किए गए भाजपा के जनसंपर्क अभियान के तहत एनआईटी दिल्ली के छात्रों से संवाद करते हुए उन्होंने विद्यार्थियों को स्थानीय एवं वैश्विक घटनाक्रम को समझने का सुझाव दिया. उन्होंने कोरोना महामारी और यूक्रेन युद्ध का पेट्रोलियम और खाद्य पदार्थो की कीमतों पर पड़ने वाले प्रभावों का जिक्र करते हुए कहा कि वैश्विकरण ने अंदर और बाहर की दीवारों को ध्वस्त कर दिया है और आपको समझना होगा कि आपके आसपास क्या घटित हो रहा है.

दुनिया में पीएम मोदी विश्वसनीय नेता

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पिछले नौ वर्षो में कई बदलाव हुए. पीएम मोदी की हालिया अमेरिका यात्रा का जिक्र करते हुए डॉ एस जयशंकर ने कहा कि उनकी एक अलग छवि है, खास तौर पर लोकतांत्रिक दुनिया में उनकी (मोदी) एक वरिष्ठ अनुभवी और विश्वसनीय नेता की छवि है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के विचारों और उनके निर्णयों का प्रभाव है. उन्होंने कहा कि अपनी विदेश यात्राओं में प्रधानमंत्री मोदी 140 करोड़ भारतीयों की ताकत और उनकी प्रतिभाओं का प्रतिनिधित्व करते हैं. अब दुनिया भारत और इसके युवाओं की ओर देख रही है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.