गौतम अदानी के हाथ आएगी डिज्नी हॉटस्टार, जानें वॉल्ट डिज्नी भारत ने क्या कहा

13

भारत के ओटीटी बाजार में एक जंग बढ़ने वाली है. बताया जा रहा है कि वॉल्ट डिज्नी भारत में अपना व्यापार बेचने की तैयारी कर रही है. इसके लिए भारतीय उद्योगपति गौतम अदानी में गौतम अदानी का नाम सबसे आगे लिया जा रहा है. जबकि, SUN TV के कलानिधि मारन सहित अन्य का नाम दूसरे नंबर पर लिया जा रहा है. समझा जा रहा है कि गौतम अदानी के लिए ये डील काफी अहम है क्योंकि बाजार में पहले से रिलायंस इंडस्ट्रीज के जियो सिनेमा के जरिए मुकेश अंबानी इंट्री मार चुके हैं. ब्लूमबर्ग न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी के वरिष्ठ अधिकारियों ने निजी इक्विटी फंडों की रुचि का भी अनुमान लगाया है, क्योंकि कंपनी कई विकल्प तलाश रही है, जिसमें भारतीय परिचालन का हिस्सा बेचना या खेल अधिकार और क्षेत्रीय स्ट्रीमिंग सेवा डिज्नी हॉटस्टार सहित इकाई की संपत्ति का संयोजन शामिल हो सकता है. इससे पहले, ब्लूमबर्ग न्यूज ने पहले रिपोर्ट दी थी कि एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी द्वारा नियंत्रित रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के साथ संपत्ति-बिक्री की बातचीत पहले ही हो चुकी है.

NDTV के विस्तार में करेगी मदद

गौरतलब है कि ब्लूमबर्ग न्यूज ने जुलाई में रिपोर्ट दी थी कि डिजनी भारत में अपने व्यवसाय के लिए रणनीतिक विकल्पों पर विचार कर रहा है. इसमें एकमुश्त बिक्री या एक संयुक्त उद्यम स्थापित करना शामिल है. डिज्नी ने इंडियन प्रीमियर लीग क्रिकेट टूर्नामेंट के स्ट्रीमिंग अधिकार वायकॉम 18 मीडिया प्राइवेट लिमिटेड को खोने के बाद से खरीद की तलाश तेज कर दी है. वायाकॉम रिलायंस, पैरामाउंट ग्लोबल और उदय शंकर की निवेश फर्म बोधि ट्री सिस्टम्स के बीच एक संयुक्त उद्यम है. अदानी समूह के लिए ये डील उसकी नई अधिग्रहीत नई दिल्ली टेलीविज़न लिमिटेड का विस्तार करने में मदद कर सकता है. मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि विचार-विमर्श अभी भी बहुत प्रारंभिक चरण में है और कोई भी सौदा नहीं हो सकता है.

कुछ भी कहने से डिज्नी ने किया मना

भारत में डिज्नी के प्रतिनिधियों ने टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. सन टीवी नेटवर्क समूह के मुख्य वित्तीय अधिकारी एस एल नारायणन ने कहा कि समूह बाजार की अफवाहों या अटकलों पर टिप्पणी नहीं करता है. अडानी के एक प्रवक्ता ने भी कहा कि वे बाजार की अटकलों पर टिप्पणी नहीं करेंगे. डिजनी की भारत इकाई की बिक्री के बारे में चर्चा से पता चलता है कि जब से अंबानी के समूह ने इंडियन प्रीमियर लीग के स्ट्रीमिंग अधिकार 2.7 बिलियन डॉलर में खरीदे हैं और इस साल की शुरुआत में इसे मुफ्त में प्रसारित करने का फैसला किया है, तब से बाजार की गतिशीलता कैसे बाधित हो गई है. डिज़्नी अब रिलायंस की प्लेबुक का उपयोग कर रहा है. भारत में चल रहे क्रिकेट विश्व कप को मुफ्त में स्ट्रीम कर रहा है. इस कदम का उद्देश्य कुछ ग्राहकों को वापस लाना है, भले ही इससे कंपनी के रेवेन्यू को नुकसान हो.

(खबर अपडेट हो रही है)

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.