राजनीतिक गलियारे से भी उठी उमरान को टीम इंडिया में शामिल करने की मांग

0 19

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग के 15वें सीजन की सबसे बड़ी खोज की बात करें तो उमरान मलिक का नाम सबसे पहले आएगा। इसमें कोई संदेह नहीं है कि उन्होंने इस सीजन में केवल 8 मैच खेलकर अपनी गेंदबाजी से सबको प्रभावित किया है। इस सूची में सुनील गावस्कर, डेल स्टेन और इयान बिशप जैसे महान क्रिकेटर शामिल हैं। सभी का मानना है कि वे आने वाले समय के स्टार हैं। लेकिन अब तो राजनीतिक गलियारे से भी उनके लिए अलग-अलग मांग उठने लगी हैं। गुजरात के खिलाफ मैच में 25 रन देकर 5 विकेट लेने के बाद उनके चाहने वालों की संख्या में रातों-रात इजाफा हुआ है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने उनकी प्रशंसा करते हुए बीसीसीआइ के सामने दो मांग रखी है। उन्होंने ट्विट कर लिखा कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को इस गेंदबाज को नेशनल टीम में जगह देनी चाहिए और इनके लिए एक खास कोच का इंतजाम करना चाहिए।

उन्होंने दूसरे ट्विट में लिखा है कि उमरान मलिक का तूफान अपने रास्ते में सब कुछ उड़ा रहा है। तेज गति और आक्रामकता देखने लायक है। आज के प्रदर्शन के बाद इसमें कोई शक नहीं कि वह आईपीएल के इस सीजन की खोज हैं।

उन्होंने गुजरात के खिलाफ मैच में रिद्धिमान साहा को 152.8 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से यार्कर फेंकी और उन्हें क्लीन बोल्ड कर दिया। हालांकि उनके इस दमदार प्रदर्शन के बावजूद भी हैदराबाद की टीम मैच जीतने में नाकाम रही और राहुल तेवतिया 21 गेंद पर नाबाद 40 और राशिद खान 11 गेंद पर नाबाद 31 की शानदार बल्लेबाजी की वजह से गुजरात ने 5 विकेट से इस मैच को अपने नाम कर लिया। चिदंबरम पहले ऐसे नेता नहीं हैं जिन्होंने उमरान की तारीफ की है बल्कि इससे पहले शशि थरूर ने भी उन्हें भारतीय टीम में शामिल करने की मांग की थी।