Delhi Metro News: Delhi Metro News: मेट्रो सेवा फिर से शुरू होने पर इस तरह यात्रा कर सकेंगे आप

0 136

नई दिल्ली,CISF Delhi Metro resumption plan: पिछले 5 महीने से बंद दिल्ली मेट्रो की ट्रेनों का संचालन सितंबर के पहले सप्ताह से शुरू होने के आसान बनने लगे हैं। केंद्र सरकार की ओर से इस बाबत अगले कुछ दिनों में सहमति मिल सकती है। इस बीच कोरोना वायरस संक्रमण को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (Central Industrial Security Force) ने सभी मेट्रो स्टेशनों पर अपनी ओर से तैयारी तेज कर दी है। CISF की ओर से दिल्ली मेट्रो के लिए एक विस्तृत प्लान दिल्ली मेट्रो रेल निगम (Delhi Metro Rail) और शहरी विकास मंत्रालय को भेजा गया है। मेट्रो का परिचालन शुरू होने पर सुरक्षा जांच के नियमों में बदलाव लागू हो जाएगा। इसमें सुरक्षाकर्मी पहले की तरह हाथ से जांच नहीं कर पाएंगे। बताया जा रहा है कि मंजूरी मिलते ही CISF इसी प्लान के तहत स्टेशनों पर सुरक्षा व्यवस्था संभालेगी।

ये है सीआइएसएफ का प्लान

  • दिल्ली मेट्रो में यात्रा करने पर यात्रियों को जांच से पहले बेल्ट, पर्स आदि को हटाना होगा।
  • मेट्रो में यात्रा के लिए फेस मास्क पहनना अनिवार्य होगा
  • यात्री को अनिवार्य रूप से मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना होगा।
  • मेट्रो स्टेशन में यात्रियों को शारीरिक दूरी के नियम करना होगा।
  • मेट्रो के प्रत्येक कोच में भी लोगों से दो से तीन सीट छोड़कर बैठने का नियम पालन करने को कहा जाएगा।

 

                                            आरोग्य सेतु ऐप जरूरी होगा

गाइडलाइन के तहत हर मेट्रो यात्री के मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड होना अनिवार्य होगा। इसे ऐसा समझिये कि मेट्रो स्टेशन पर उन्हीं यात्रियों को प्रवेश मिलेगा जो मोबाइल फोन में एप इंस्टॉल किए पाए जाएंगे। इसी के साथ केवल ई-पास और ग्रीन कोडित या सुरक्षित श्रेणी के व्यक्तियों को ही प्रवेश की अनुमति होगी। दरअसल, फिलहाल ट्रायल के तौर चुनिंद यात्री ही मेट्रो में सफर कर सकेंगे।

                                                           यात्रागण ध्यान दें

सीआइएसएफ की संभावित गाइडलाइन के मुताबिक, मेट्रो में सफर करने वाले यात्रियों को तलाशी के दौरान अपने शरीर से हर प्रकार की धातु की वस्तु को बाहर निकालकर अपने बैग में रखना होगा। यह भी बताया जा रहा है कि अगर यात्रियों के पास बैग नहीं होगा तो उनके लिए ट्रे उपलब्ध करवाई जाएगी। इसी के साथ वही यात्री मेट्रो स्टेशन में प्रवेश का हकदार होगी, जिसने अपने चेहरे पर मास्क पहना होगा।