Delhi IGI Airport: यात्रियों की थम गयी सांसे करीब आ गए 2 विमान

5

indigo 1

Delhi IGI Airport: भारत के सबसे व्यस्त हवाई अड्डों में राजधानी दिल्ली का इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा भी शामिल है. हजारों की संख्या में यहां से विमान आना जाना होता है. मगर, यहां एक बड़ा हादसा होते-होते टल गया है. बताया जा रहा है कि 17 नवंबर को एयरपोर्ट पर इंडिगो के दो विमान खतरनाक रुप से एक दूसरे के सामने आ गए थे. घटना में शामिल विमान एयरबस A321 जिनका पंजीकरण VT-IUO और एयरबस A320 (VT-ISO) थे. पहला विमान दिल्ली से हैदराबाद के लिए उड़ान भर रहा था, जबकि दूसरा विमान दिल्ली से रायपुर के लिए उड़ान भर रहा था. अब मामले की जांच विमान दुर्घटना जांच ब्यूरो (AAIB) के द्वारा किया जा रहा है. ब्यूरो ने इस मामले को गंभीर घटना बताया है. हालांकि, हादसे में दोनों विमानों के यात्रियों को किसी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ और ना ही किसी को चोट आयी.

Read Also: अनुपम मित्तल Google और Apple पर भड़के, ईस्ट इंडिया कंपनी से कर दी तुलना, जानें पूरा मामला

शुरुआती रिपोर्ट में क्या खुलासा हुआ है?

रिपोर्ट के अनुसार, A321 विमान 17 नवंबर की दोपहर 12:31 बजे रवाना हो रहा था. एयर ट्रैफिक कंट्रोल के द्वारा उसे मंजूरी दे दी गई. लेकिन, विमान को “RWY 29R के टेकऑफ पथ की ओर बाएं मुड़ते देखा गया”. उस समय, A320 विमान को भी उड़ान भरने की इजाज दे दी गयी. उसने रनवे 29 राइट से उड़ान भरी. एएआईबी ने कहा कि इस क्रम के दौरान, दो विमानों के बीच सुरक्षित दूरी यानी अलगाव का उल्लंघन हुआ. दोनों विमानों के पायलटों को ट्रैफिक अलर्ट और कोलिजन अवॉइडेंस सिस्टम द्वारा प्रदान की गई टीसीएएस-आरए (ट्रैफिक अलर्ट और कोलिजन अवॉइडेंस सिस्टम-रिज़ॉल्यूशन एडवाइजरी) प्राप्त हुई.

AAIB को डेटा कैसे प्राप्त हुआ?

एएआईबी ने विमान के कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर और फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर सहित अन्य से डेटा प्राप्त किया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, जांच एजेंसी ने संबंधित उड़ान चालक दल और हवाई यातायात नियंत्रकों के शुरुआती बयान भी दर्ज किए हैं. मामले में इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट प्रबंधन और विमान दुर्घटना जांच ब्यूरो काफी गंभीर है. इस घटना में जल्द कार्रवाई होने की संभावना है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.